गांधीजी ने किया था स्वदेशी के लिए जागरूक, विचार आज भी प्रासंगिक

R K Girls College-संभाग स्तरीय प्रतियोगिताएं आयोजित

मदनगंज-किशनगढ़.
गांधीजी के विचार आज भी प्रासंगिक है। स्वदेशी, स्वच्छता, मानवअधिकार हो या अहिंसा हर क्षेत्र में उनका प्रभाव है। यह विचार मंगलवार को संभाग के विभिन्न कॉलेजों से आए छात्रों ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय सेवा योजना (एन.एस.एस ) की ओर से आर के पाटनी गल्र्स कॉलेज में किशनगढ़ में संभाग स्तरीय विविध प्रतियोगिताओं में रखे।
कार्यक्रम की मुख्य अतिथि डॉ. सुनीता पचौरी ने कहा कि एन.एस.एस. सेवा का एक माध्यम है जिससे समाज सेवा के साथ समाज को एक नवीन दिशा मिलती है। विशिष्ठ अतिथि डॉ. धीरजपुरी गोस्वामी ने कहा कि प्रतियोगिता से विद्यार्थियों को एक मंच मिलता है। इस अवसर पर छात्र-छात्राओं ने भाषण प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने प्रभावी रूप से अपने विचार प्रस्तुत किए। इस दौरान क्विज, निबंध सहित अन्य प्रतियोगिताएं भी हुई। महाविद्यालय सचिव सुभाष अग्रवाल ने अतिथियों का स्वागत किया और छात्र-छात्राओं का उत्साहवर्धन किया। महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. वन्दना भटनागर ने बताया कि निबंध प्रतियोगिता में प्रथम रानी लक्ष्मी बाई कन्या महाविद्यालय निवाई की अंजली शर्मा, द्वितीय सनातन धर्म राजकीय महाविद्यालय ब्यावर की आरती सांगेला, तृतीय जीसीए अजमेर की निकिता गोडालिया, भाषण प्रतियोगिता में प्रथम जीसीए नागौर के दीपक सोलंकी, द्वितीय जीसी टोंक के दीपांशुु त्रिवेदी, तृतीय बांगड़ कॉलेज डीडवाना की कनिका रामावत, क्विज में प्रथम रानी लक्ष्मी बाई कन्या महाविद्यालय निवाई, द्वितीय जीसी अराईं व तृतीय जीसी नागौर रहा। एनएसएस प्रभारी रूचि मिश्रा ने बताया कि अजमेर संभाग के अजमेर, भीलवाड़ा, टोंक, नागौर के 33 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। इस दौरान डॉ. संजय जैन सहित अन्य उपस्थित रहे। संचालन डॉ. राधा गुप्ता सहित अन्य ने किया।

Amit Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned