विधायक ने आमजन के साथ मेगा हाइवे पर किया प्रदर्शन

विधायक ने आमजन के साथ मेगा हाइवे पर किया प्रदर्शन

Kali Charan kumar | Updated: 08 May 2019, 08:07:57 PM (IST) Kishangarh, Ajmer, Rajasthan, India

किशनगढ़-हनुमानगढ़ मेगा हाइवे पर सड़क निर्माण नहीं होने से खफा हुए विधायक टांक,
रिडकोर की ओर से काम शुरू होने के आश्वासन पर मामला हुआ शांत
हाइवे पर दोनों तरफ लगी करीब दो किलोमीटर लबी कतारें, आमजन और यात्री हुए परेशान

किशगनढ़-हनुमानगढ़ मेगा हाइवे पर स्वीकृति के बाद भी करीब डेढ़ महीनें से सड़क निर्माण कार्य शुरू नहीं होने से खफा विधायक सुेरश टांक अपने समर्थकों और लोगों के साथ बुधवार को नाराजगी जताई। विधायक टांक के प्रदर्शन और लोगों की भीड़ के कारण मेगा हाइवे पर करीब पौने तीन घंटे जाम लग गया। सूचना पाकर एसडीओ श्याम राठौड़, डिप्टी गीता चौधरी भी मौके पर पहुंंचे और विधायक टांक से समझाइश की। लेकिन विधायक टांक अपनी मांग पर अडिग़ रहे और सड़क निर्माण शुरू करने के बाद ही हाइवे से लोगों के हटने की बात कही। आखिरकार करीब ढाई घंटे बाद रिडकोर के अधिकारी मौके पर आए और उन्होंने जाम हटाने के तत्काल बाद ही काम शुरू करने का आश्वासन दिया। इसके बाद विधायक टांक एवं उनके साथ लोगों की भीड़ करीब पौने तीन घंटे बाद हाइवे से हटी और मामला शांत हुआ। वहीं रिडकोर की तरफ से सड़क निर्माण का काम शुरू कर दिया गया।
किशनगढ़ हनुमानगढ़ मेगा हाइवे स्थित एनआरएल पेट्रोल पंप से काली डूंगरी तक करीब साढ़े तीन किलोमीटर सड़क निर्माण और सीमा क्षेत्र के पूरे मेगा हाइवे की मरमत कार्य की स्वीकृति के बाद निर्माण कार्य शुरू नहीं होने विधायक सुरेश टांक नाराज हो गए। सड़क निर्माण की स्वीकृति और टेंडर जारी होने के बाद ही रिडकोर की ओर से सड़क निर्माण शुरू नहीं होने से नाराज विधायक टांक समेत लोगों की भीड़ सुबह करीब 11.45 बजे मार्बल एरिया स्थित मेगा हाइवे पहुंचे और लोगों ने रिडकोर की अनदेखी पर नारेबाजी शुरू कर दी। लोगों की भीड़ अधिक होने के कारण मेगा हाइवे पर वाहनो का जाम लग गया। थोड़ी ही देर में मेगा हाइवे पर दोनों तरफ करीब दो-दो किलोमीटर जाम लग गया। विधायक टांक का कहना है कि रोड पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है। यहां पर आए दिन दुर्घटनाएं होती है। इससे कई लोगों की मौत तक हो चुकी है। उक्त रोड पर रिडकोर वाहन चालकों से टोल की वसूली करता है। ऐसे में रोड को दुरुस्त कराने की जिमेदारी भी रिडकोर की बनती है। करीब ढ़ाई महीने पहले 3 करोड़ रुपए का बजट स्वीकृत किया जा चुका है। ठेकेदार को वर्कआर्डर तक जारी कर दिए गए। इसके बावजूद ठेकेदार कार्य शुरू नहीं कर रहा है। रिडकोर के अधिकारियों से बात करने पर केवल काम शुरू करने का आवश्वासन दिया जाता है और इसे भी करीब एक महीने बीत गया। क्षतिग्रस्त रोड को दुरुस्त कराने के लिए जिला और स्थानीय प्रशासन को बार-बार अवगत कराया गया। लेकिन क्षतिगस्त रोड पर काम शुरू नहीं होने और दुर्घटनाओं पर लगाम नहीं लगने से क्षेत्रीय लोगों और व्यापारियों मेेंंं काफी आक्रोशत हो गया। सूचना पाकर उपखण्ड अधिकारी श्यामा राठौड़, तहसीलदार हेतराम विश्नोई, रिडकोर के आनंद राठौड़ आदि मौके पर पहुंचे। उन्होंने समझाइश का प्रयास किया, लेकिन विधायक और उनके समर्थक तुरंत काम शुरू कराने पर ही जाम खुलवाने की बात को लेकर अड़े रहे। इस पर करीब 2.30 बजे ठेकेदार के तुरंत काम शुरू करने के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ और विधायक समेत लोगों की भीड़ हाइवे से हटी और हाइवे पर पुलिस अधिकारियों ने यातायात सुचारू करवाया। तब जाकर जाम में फंसे लोगों और यात्रियों को भी राहत मिली।

पौने तीन घंटे तक हाइवे जाम
क्षतिग्रस्त रोड का ठेकेदार की ओर से एक महीनें बाद भी सड़क निर्माण कार्य शुरू नहीं करने से आक्रोशित होकर विधायक सुरेश टांक के साथ लोगों की भीड़ सुबह 11.45 बजे जाम लगा दिया। वह मेगा हाईवे स्थित आधुनिक ग्रेनाइट के सामने रिडकोर के अधिकारी और एसडीओ श्यामा राठौड़ ने जाम हटाने के तत्काल बाद ही काम शुरू करने का आश्वासन दिया। इसके बाद करीब दोपहर 2.10 बजे मामला शांत हुआ और दोपहर 2.30 बजे हाइवे पर यातायात सामान्य हुआ।
आचार संहिता की आड़ नहीं ले सकते
उपखण्ड अधिकारी राठौड़ और रिडकोर के अधिकारियों ने आचार संहिता के चलते काम शुरू नहीं करने की बात कही। विधायक टांक ने कहा कि आचार संहिता की शर्त निजी कपनी पर लागू नहीं होने की बात कहते हुए नाराजगी जताई। रिडकोर भी निजी कपनी है। पहले ही वर्क ऑर्डर जारी हो चुका है। ऐसे में इसकी आड़ लेना गलत है। इस दौरान वहां पर उपस्थित ठेकेदार ने जाम के खुलते काम शुरू कराने की बात कही।
प्रशासन को पहले दी सूचना
विधायक टांक ने बताया कि बुधवार को सुबह 9.29 बजे उपखण्ड अधिकारी श्यामा राठौड़ से फोन पर बात की। पुलिस उप अधीक्षक गीता चौधरी 11.55 बजे फोन पर जाम की जानकारी दी। उपखण्ड अधिकारी को दोपहर 11.30 बजे जाम की सूचना दी। इसके बावजूद वह दोपहर 2.10 बजे मौके पर पहुंची। पुलिस उप अधीक्षक भी 1.30 बजे मौके पर पहुंची।
इनका कहना है...
मेगा हाइवे की क्षतिग्रस्त रोड पर पिछले करीब एक माह से काम शुरू नहीं किया जा रहा है। इसका वर्क ऑर्डर भी काफी पहले जारी हो चुका है। 14 अप्रेल को काम शुरू करने की बात कही थी, लेकिन अभी तक शुरू नहीं किया गया। क्षतिग्रस्त रोड के कारण दुर्घटनाओं में कई मौत हो चुकी है। रिडकोर की अनदेखी से लोगों और व्यापारियों में खासा रोष व्याप्त हो गया था।
- सुरेश टांक, विधायक किशनगढ़।
नियमानुसार काम शुरू करने का आश्वासन दिया गया।
- श्यामा राठौड़, उपखण्ड अधिकारी किशनगढ़।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned