संकरा दरवाजा बन ना जाए परेशान का सबब

संकरा दरवाजा बन ना जाए परेशान का सबब

Kali Charan kumar | Updated: 14 Jun 2019, 12:43:51 PM (IST) Kishangarh, Ajmer, Rajasthan, India

बी. आर. अबेडकर राजकीय छात्रावास के हालात

मदनगंज-किशनगढ़. नगर में सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग की ओर से संचालित बी. आर. अबेडकर राजकीय छात्रावास का संकरा गेट परेशानी का कारण बन सकता है। हालांकि अभी छात्रावास में सन्नाटा पसरा हुआ है।
छात्रावास में छठीं से बारहवीं तक के छात्र रहते है। पिछले साल इसमें 31 छात्र रहकर पढ़ाई करते है। लेकिन 10 अप्रेल को परीक्षा समाप्त होने के साथ ही छात्र वापस चले गए। अब एक जुलाई से स्कूल खुलने पर ही छात्रावास खुलेंगे। यहां पर छह कमरे, एक स्टोर, एक रसोईघर, एक गार्ड रूम और कार्यालय आदि है। छात्रावास अधीक्षक के रहने की भी व्यवस्था है। इसमें मुय बात यह है कि इसमें आवाजाही का गेट बहुत संकरा (छोटा) है। इसके कारण कभी आग आदि लगने पर छात्र अथवा स्टाफ को निकलने में परेशानी हो सकती है। छात्रावास प्रबंधन का दावा है कि उनके पास आग बुझाने आदि के पर्याप्त संसाधन है। छात्रावास के निकट ही फायर स्टेशन है।
इनका कहना है...
छात्रावास में आजतक कभी ऐसा हादसा नहीं हुआ है। चंद कदमों की दूरी पर फायर बिग्रेड स्टेशन है। हमारे पास आग आदि बुझाने के लिए पर्याप्त संसाधन है। छात्रावास एक जुलाई से शुरू होंगे।
- विनित कुमार, सामाजिक सुरक्षा अधिकारी डॉ. बीआर अबेडकर छात्रावास किशनगढ़।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned