नहीं लगी एक भी रेडीमेड इकाई

नहीं लगी एक भी रेडीमेड इकाई

Kali Charan kumar | Publish: May, 07 2019 11:57:15 AM (IST) | Updated: May, 07 2019 11:57:16 AM (IST) Kishangarh, Ajmer, Rajasthan, India

वस्त्र मंत्रालय की योजना की ओर नहीं ध्यान

 

वस्त्र मंत्रालय की ओर से घोषित रेडीमेड इकाइयों के लिए योजना का किसी भी उद्यमी ने लाभ नहीं उठाया। इसके कारण उपखंड क्षेत्र में एक भी इकाई नहीं लगी और लोगों को रोजगार नहीं मिला।
केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय ने ए टफ योजना के अंतर्गत गारमेंट इकाई लगाने पर अनुदान सहित अन्य लाभ दिए जाने की घोषणा की थी लेकिन इस योजना की ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया। इस योजना में 15 प्रतिशत पूंजीगत अनुदान दिया जाता है। इसके साथ ही 3 साल तक लगातार संचालन पर 10 प्रतिशत अनुदान और दिया जाता है। इसमे 3 साल तक श्रमिकों का पीएफ सरकार की ओर से वहन किया जाता है।

तो बढ़ती रोजगार की संया
इस योजना के अंतर्गत रेडीमेड इकाइयां लगाई जाती तो रोजगार बढ़ जाते। गारमेंट इकाइयों को यहां लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाए तो सैंकड़ों लोगों को रोजगार मिल सकता है। इसके लिए अलग क्षेत्र भी विकसित किया जा सकता है।

तो बढ़ती रोजगार की संया
इस योजना के अंतर्गत रेडीमेड इकाइयां लगाई जाती तो रोजगार बढ़ जाते। गारमेंट इकाइयों को यहां लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाए तो सैंकड़ों लोगों को रोजगार मिल सकता है। इसके लिए अलग क्षेत्र भी विकसित किया जा सकता है।
कौशल विकास में हो शामिल
किशनगढ़ में कपड़े का कार्य काफी समय से है। पावरलूम इकाई को लगाने से पहले यहां कपड़ा मिल भी थी जिसे पुरानी मिल कहा जाता है। यहां सिलाई कार्य को कौशल विकास में शामिल किया जाकर प्रशिक्षण दिया जाए तो सैंकड़ों श्रमिक इससे लाभांवित हो सकते है।
टफ योजना भी नहीं मिला लाभ
इससे पहले केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय की ओर से घोषित टेक्नालॉजी अपगे्रडेशन फंड स्कीम (टफ) योजना का पावरलूम इकाइ संचालन लाभ नहीं उठा पाए। इसका सबसे बड़ा कारण पावरलूम के लिए अलग से रीको एरिया नहीं होना रहा। वहीं पावरलूम इकाइयों के आधुनिकीकरण योजना की ओर कुछ उद्यमियों को छोड़कर किसी ने ध्यान नहीं दिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned