बारिश के बाद बदली किशनगढ़ की तस्वीर

बारिश के बाद बदली किशनगढ़ की तस्वीर

Kali Charan kumar | Updated: 06 Jul 2019, 12:05:21 PM (IST) Kishangarh, Ajmer, Rajasthan, India

इंद्रदेव ने की किशनगढ़ की तस्वीर साफ
कॉलोनियों हुई जलमग्न, बारिश से कहीं ढह गई दीवार
विद्युत निगम कार्यालय भवन में घुसा पानी, फाइलें हुई खराब
आरयूबी में फंसे वाहन, उच्च जलाशय के चबूतरे में आई दरार

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मदनगंज-किशनगढ़. किशनगढ़ में मानसून की पहली बारिश ने ही बारिश से पूर्व की जाने वाली प्रशासनिक तैयारियों की पोल खोल दी। शुक्रवार को सुबह 4 बजे से करीब 1 घंटे तेज बारिश और इसके बाद सुबह 7 बजे तक रिमझिम बारिश के दौर से चहुंओर पानी-पानी हो गया। पानी की निकासी नहीं होने के कारण कई कॉलोनियां और रेलवे के अंडरपास जलमग्न हो गए। विद्युत वितरण निगम के सहायक अभियंता कार्यालय भवन में पानी घुसने से कम्प्यूटर और फाइलें खराब हो गई। बारिश से कहीं पर रोड धंस गई तो कही बच्चों से भरी स्कूलें बसें पानी में फंस गई। बारिश थमने के बाद स्थानीय प्रशासन और नगर परिषद प्रशासन ने जेसीबी आदि से पानी की आवकों को खोला और पानी का जल स्तर कम हुआ। नगर के जयपुर रोड पर करीब एक घंटे तक आवागमन बाधित रहा।

तिलक नगर डूबा, दीवार ढही खम्भा टूटा
जयपुर रोड स्थित शहीद स्मारक पार्क के पास नाले में कचरा भरा होने से बारिश का पानी सड़क पर आ गया और यातायात बाधित हो गया। सूचना पर नगर परिषद की टीम एलएनटी मशीन, टे्रक्टर आदि लेकर पहुंची। मशीन से नाले में जमा कंटिली झांडियां और कचरे को निकलवाया और पानी का बहाव शुरू हुआ। मौके पर मदनगंज थाना पुलिस को बुलाना पड़ा। इसके बाद मार्ग पर यातायात सुचारू हो सका। इसी तरह तिलक नगर बारिश के पानी से जल मग्न हो गया। कॉलोनी और घरों में पानी भरने से स्थिति विकट हो गई। क्षेत्र में दो माह पहले बनाई गई दीवार और रोड बह गया। इससे बिजली के खम्भे आदि भी टूट गए।
आरयूबी लबालब, क्रेन से निकाले वाहन
रेलवे स्टेशन, कृष्णापुरी और सांवतसर आरयूबी में बारिश का पानी भर गया। तीनों आरयूबी में कई फीट पानी भरने के कारण आवाजाही बंद हो गई। रेलवे स्टेशन के निकट भरे आरयूबी में रोडवेज और स्कूल की बस फंस गई। जिसे क्रेन के माध्यम से बाहर निकाला गया। बसों में बच्चे और यात्री सवार थे। इसके बाद पानी की निकासी के लिए पंप सेट लगाए गए। रेलवे स्टेशन पर एक निजी स्कूल की बच्चों से भरी बस और सवारियों से भरी रोडवेज बस भी फंस गई। बच्चों और सवारियों को खासी देर तक बसों के भीतर रहना पड़ा। आखिरकार क्रेन की सहायता से बसों को बाहर निकाला गया।

मंडी में रखी जिंसें भीगी, कराया खाली
कृषि उपज मंडी में बारिश के कारण चने से भरी जिंसों की बोरियां भीग गई। व्यापारियों ने तुरंत खुले में रखी जिंसों को मंडी के प्लेटफार्म पर शिफ्ट कराया। भीगी हुई बोरियों को बदला गया।

हमीर सागर ओवरफ्लो, लिंक रोड जाम
हमीर सागर तालाब में पानी की आवक होने से तालाब ओवरफ्लो हो गया। तालाब के निकासी नाले में पानी का बहाव तेज होने के कारण लिंक रोड के दोनों और आवाजाही बंद हो गई। तालाब का पानी लिंक रोड से होते हुए नाले के माध्यम से गुंदोलाव झील में पहुंचता है।

सहायक अभियंता कार्यालय जलमग्न
अजमेर रोड बालाजी की बगीची के सामने स्थित अजमेर विद्युत वितरण निगम के सहायक अभियंता कार्यालय में बारिश का पानी भर गया। कार्यालय के बाहर बने नाला क्षतिग्रस्त होने और पानी भरने के कारण डिस्कॉम की फाइलें और क?प्यूटर भीग गए। इसके कारण दिनभर काम-काज प्रभावित रहा। कर्मचारी पानी की निकासी करने और साफ-सफाई में लगे रहे।

उच्च जलाशय का फाउण्डेशन धंसा
खोड़ा गणेश रोड स्थित मित्तल कॉलोनी में जलदाय विभाग का उच्च जलाशय बना हुआ है। जलाशय का निर्माण कार्य 17 सितम्बर 2017 को हुआ था। हालांकि अभी इससे जलापूर्ति प्रारंभ नहीं हुई है। बारिश के कारण उच्च जलाशय का फाउण्डेशन धंस गया। इससे उसमें दरारें आ गई। उच्च जलाशय के नीचे एक कमरानुमा बना हुआ है। उसमें भी दरार आदि आ गई है।

झील में तीन व एनिकट दो फीट पानी आया
नगर के गुंदोलाव झील में अच्छी बारिश से शुक्रवार शाम तक तीन पानी की आवक हुई है। झील में विभिन्न नालों से पानी की आवक जारी है। इसी प्रकार पिताम्बर की गाल स्थित एनिकट में दो फीट पानी की आवक हुई है। यहां पर पानी की आवक जारी है।
खेतों में भरा पानी, काश्तकार खुश
किशनगढ़ सहित आस-पास के क्षेत्रों में अच्छी बारिश होने से खेत लबालब हो गए। अच्छी बारिश होने से काश्तकारों के चेहरे भी खिल गए है। आगामी दिनों खेतों में बुवाई को दौर प्रारंभ होगा। हालांकि कई क्षेत्रों में बुवाई हो चुकी है।
पावर ट्रांसफार्मर फेल, 20 खम्भे गिरे
बारिश के कारण अजमेर विद्युत वितरण निगम का सलेमाबाद में लगा पावर ट्रांसफार्मर फेल गया। इसके कारण आस-पास के गांव की बिजली आपूर्ति बंद हो गई। इसी प्रकार नगर सहित आस-पास के क्षेत्रों में बिजली के 20 से अधिक खम्भे गिर गए। वहीं पेड़ आदि गिरने के कारण कई जगह तार भी टूट गए। डिस्कॉम की टीम शुक्रवार को शाम तक क्षतिग्रस्त खम्भो आदि को बदलने में जुटी रही। इसके कारण कई क्षेत्रों में बमुश्किल शाम तक बिजली आपूर्ति शुरू हो सकी।
कई जगह भरा बारिश का पानी
नगर में बारिश के कारण कई जगह पानी भर गया। इसके तहत सरवाड़ी गेट, हाथीखान, तिलक नगर, हाउसिंग बोर्ड, गांधीनगर कच्ची बस्ती, रूपनगढ़ आरओबी के पास कच्ची बस्ती में, सिराना रोड के पास सहित नगर में कई स्थानों पर बारिश का पानी भर गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned