भगवान भरोसे फिजिस्क के छात्र छात्राएं

भगवान भरोसे फिजिस्क के छात्र छात्राएं

Kali Charan kumar | Updated: 15 Jun 2019, 12:17:14 PM (IST) Kishangarh, Ajmer, Rajasthan, India

कैसे होगी भौतिक शास्त्र की पढ़ाई
राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में दोनों पद रिक्त
1 जुलाई से शुरू होगा शैक्षिक सत्र

मदनगंज-किशनगढ़. राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में भौतिक शास्त्र (फिजिक्स) विषय में सहायक आचार्य के दोनों पद रिक्त है। वहीं अगले माह 1 जुलाई से शैक्षिक सत्र शुरू होना है। इसको देखते हुए इस विषय की पढ़ाई कौन कराएगा यह अभी तक तय नहीं है।
राजकीय महाविद्यालय में मार्च माह से ही भौतिक शास्त्र विषय में सहायक आचार्य के पद रिक्त है। यहां सहायक आचार्य के दो पद स्वीकृत है। दोनों पद ही खाली होने से विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए गंभीर परेशानी हो जाएगी। महाविद्यालय में स्नातक प्रथम वर्ष में कुल 176 सीटे है। वहीं द्वितीय वर्ष और तृतीय वर्ष में भी विद्यार्थी अध्ययनरत है। लगभग 500 विद्यार्थी होने के बावजूद भौतिक शास्त्र विषय का एक भी सहायक आचार्य महाविद्यालय में नहीं है।
महत्वपूर्ण है विषय
भौतिक शास्त्र विज्ञान संकाय का महत्वपूर्ण विषय है। महाविद्यालय में यह रसायन विज्ञान, गणित के साथ पढ़ाया जाता है। सैद्धांतिक के साथ साथ प्रायोगिक पढ़ाई जरूरी होती है। इस विषय की नियमित पढ़ाई के लिए सहायक आचार्यों का होना आवश्यक है।
प्रयोगशाला सहायक भी नहीं
महाविद्यालय में रसायन विज्ञान और फिजिक्स की लैब में प्रयोगशाला सहायक भी नहीं है। इससे विद्यार्थियों को प्रायोगिक कार्य कराने में परेशानी आती है। प्रयोगशाला सहायक के पद भर दिए जाए तो प्रायोगिक कार्य की गुणवत्ता बढ़ाने में मदद मिलेगी।
इनका कहना है-
महाविद्यालय में वर्तमान में भौतिक शास्त्र के दोनों पद रिक्त है। इन पदों को भरने के लिए कॉलेज शिक्षा आयुक्तालय को लिखा गया है।
-सहदेव दान बारहठ, प्राचार्य, राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned