पुलिया और अंडरपास के लिए सीएम गहलोत से मिले टांक

पुराने रेलवे स्टेशन पर अंडरपास और मौखम विलास की टूटी पुलिया निर्माण के लिए की बातचीत

By: Narendra

Published: 24 Aug 2020, 12:40 AM IST

मदनगंज-किशनगढ़ (अजमेर).

मौखम विलास के लिए जाने वाले क्षतिग्रस्त पुलिया और पुराने रेलवे स्टेशन पर अंडरपास निर्माण के लिए विधायक सुरेश टांक ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की है। विधायक टांक ने मुख्यमंत्री गहलोत के समक्ष इन दोनों कार्यों को अपनी प्राथमिकता में गिनाया है और अड़चनों को दूर कर जल्द नवनिर्माण शुरू करने की कवायद करने की मांग भी की है। मुख्यमंत्री गहलोत ने विधायक टांक को उचित कार्रवाई का भरोसा भी दिया है।

विधायक टांक सीएम गहलोत से मिले और किशनगढ़ के रुके हुए विकास कार्यों को लेकर चर्चा भी की है। विधायक ने सीएम को बताया कि विधानसभा के शहरी क्षेत्र में सरकार ने करोड़ों की लागत से गुंदोलाव झील के बीचों-बीच स्थित मौखम विलास संत नागरीदास पैनोरमा का निर्माण कराया। इस पैनोरमा तक पहुंचने के लिए गुंदोलाव झील के बीच से एक पुलिया है जो कि पूरी टूट चुकी है और दीवारें भी झील में गिर गई हैं। सरकार ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के माध्यम से पुलिया के नव निर्माण के लिए 3 करोड़ 40 लाख का बजट भी आवंटित कर रखा है, लेकिन पुलिया नवनिर्माण के लिए यह राशि कम है और यही वजह है कि किसी भी संवेदक ने दो बार टेंडर प्रक्रिया में रुचि नहीं दिखाई। इस समस्या को लेकर सदन में बजट सत्र में भी रखा जा चुका है। टांक ने चर्चा के दौरान गत दिनों टूटी पुलिया से दो युवकों के बाइक समेत झील में डूब कर अकाल मौत का ग्रास होने के हादसे का भी जिक्र किया और पुलिया के नवनिर्माण के लिए बजट बढ़ाकर 6 करोड़ करने और इसकी स्वीकृति जारी करने की मांग की। इसी तरह विधायक ने पुराने रेलवे स्टेशन पर अंडरपास निर्माण कार्य की वित्तीय स्वीकृति भी दिए जाने की बात रखी। विधायक ने सीएम को बताया कि जल्द वित्तीय स्वीकृति दी जाए और उक्त फंड संबंधित विभाग को हस्तांतरित भी किया जाए, ताकि जल्द ही अंडरपास निर्माण की कार्रवाई शुरू हो सके।

Narendra Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned