किशनगढ़ मेें बने वेंडिंग जोन

किशनगढ़ मेें बने वेंडिंग जोन

Kali Charan kumar | Updated: 25 Jul 2019, 09:05:14 PM (IST) Kishangarh, Ajmer, Rajasthan, India

विधायक सुरेश टांक ने सदन में उठाई मांग

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मदनगंज-किशनगढ़. विधायक सुरेश टांक ने विधानसभा में किशनगढ़ वेंडिंग जोन घोषित किए जाने की मांग की है। विधायक टांक ने सदन में कहा कि किशनगढ़ नगर परिषद बहुत बड़ी परिषद है, इसमें अब 60 वार्ड होने जा रहे हैं। किशनगढ़ शहर में एक ही मुख्य मार्ग है जिस पर पूरे शहर के यातायात का भार रहता है। लेकिन यहां वेंडिंग जोन नहीं होने के कारण यातायात की समस्या बढ़ जाती है। ऐसे में अधिकृत रूप से नगर परिषद को निर्देश जारी कर शहर में वेंडिंग जोन ढूंढ कर और ऐसे वेंडर्स है जो बाजार के बीच बैठे हैं उनके लिए बैठने, छाया, पीने के पानी की और यूरिनल्स की समूचित व्यवस्था किए जाए। ताकि यातायात सुगम हो सके। विधायक टांक ने शहर में पार्किंग समस्या के लिए नेहरू वाचनालय की जगह को पार्किंग में बदलने के लिए नगर परिषद को अधिकृत करने एवं नेहरू वाचनालय के लिए अन्य जगह उपलब्ध कराने की भी मांग की। विधायक टांक ने कहा कि सीवरेज परियोजना और शहरी जल प्रदाय योजना की क्रियांवती के चलते किशनगढ़ की सभी सड़कें टूट चुकी हैं। साथ ही सीवरेज लाइन डालने के बाद जो निर्माण हो रहा है वह भी गुणवत्तापूर्ण नहीं हो रहा है। ऐसी सड़कों की जांच कराई जाए। ताकि जनता के पैसे का सदुपयोग हो सके। विधायक टांक ने अरांई क्षेत्र में एक फायर ब्रिगेड भी उपलब्ध कराने की मांग की। विधायक टांक ने 150 वर्ग गज तक की भूमि को खांचा भूमि मेंं विक्रय के लिए नगर परिषदों को अधिकार प्रदान किए जाने की भी मांग की। ताकि इन प्रकरणों का शीघ्र निस्तारण हो सके। विधायक टांक ने सदन में बताया कि नगर परिषद किशनगढ़ क्षेत्र में 40 वर्षों पूर्व से आबादी बसी हुई है और उसमें साइजिंग फैक्ट्रियां लगी हुई है, दुकानें बनी हुई है और वाणिज्य संस्थान बने हुए हैं। लेकिन इनके नियमन के लिए कोई दिशा-निर्देश नहीं होने की वजह से वर्तमान में नगर परिषद को रेवेन्यू नहीं मिल पा रही है और न उनका अतिक्रमण तोड़ा जा रहा है। इसलिए अतिशीघ्र परिषद को दिशा निर्देश जारी किए जाए ताकि उक्त जमीन का निस्तारण हो सके। विधायक ने 12 वर्ष बाद भी राज्य सरकार निर्माण अवधि निर्धारित दर पर शास्ति जमा कराने की शर्त पर बढ़ाने की मांग की। ताकि निर्माण के लिए लंबित पत्रावलियों का निस्तारण हो सके। इसी प्रकार टांक ने कहा कि सरकार के जन घोषणा पत्र के अनुसार दिव्यांग और उसके परिवार को बीपीएल की सुविधाएं देने की घोषणा की गई थी। इसलिए अतिशीघ्र इन परिवारों को बीपीएल की समस्त सुविधाएं लागू किए जाने की मांग की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned