पांचला होम से 17 किशोर भागे

पांचला होम से 17 किशोर भागे
पांचला होम से 17 किशोर भागे,पांचला होम से 17 किशोर भागे,पांचला होम से 17 किशोर भागे,पांचला होम से 17 किशोर भागे,पांचला होम से 17 किशोर भागे,पांचला होम से 17 किशोर भागे,पांचला होम से 17 किशोर भागे

Nirmal Mishra | Updated: 17 Sep 2019, 09:57:57 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

पांचला होम से 17 किशोर भागे

पांचला होम से 17 किशोर भागे

- 7 को पुलिस ने किया बरामद

हावड़ा .

पांचला सरकारी होम से सोमवार रात को खिडक़ी तोडक़र 17 किशोर फरार हो गए। मंगलवार को होम के अधिकारी और पुलिस ने इलाके के विभिन्न गांवों में विशेष छापामारी अभियान चलाकर 7 किशोरों को बरामद कर लिया। वे गांव में ही छिपे हुए थे। जबकि 10 किशोरों का शाम तक भी पता नहीं लग पाया। इसके लिए आस-पास तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। जिला प्रशासन ने मामले को लेकर जांच का आदेश दे दिया है।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि पांचला होम में कुल 150 किशोर रहते हैं। सोमवार रात को पहले तल्ले में रहने वाले कि शोरों ने खिडक़ी में लगे लोहे की छड़ों को तोड़ दिया और पास में एक सुपारी के पेड़ के सहारे बारी-बारी से उतरकर 17 किशोर होम से फरार हो गए। इसकी जानकारी रात में होम प्रबंधन को अन्य किशोरों ने दी। इसके बाद होम प्रबंधन ने पुलिस को सूचित किया। पुलिस व होम प्रबंधन के लोगों ने देर रात से लेकर मंगलवार सुबह तक छापामारी अभियान चलाकर ७ फरार किशोरों को बरामद कर लिया। जबकि १० का पता नहीं चल पाया है। इस घटना को लेकर स्थानीय गांव के लोगों ने प्रदर्शन किया उनका आरोप है कि वर्ष 2018 में इस होम से ठीक इसी तरह से खिडक़ी की छड़े तोड़ कर 6 किशोर भाग गए थे। 3 सितम्बर को इस होम में एक मूक बधिर किशोर को बुरी तरह पीटने की घटना को लेकर उसके परिजनों ने जमकर विरोध-प्रदर्शन किया था। इस संबंध में थाने में शिकायत की थी। स्थानीय लोगों का आरोप है कि होम में अब तक सात बार किशोरों के भागने की घटना घटी। उसके बाद भी यहां होम प्रबंधन की नींद नहीं खुली। गांव वालों का आरोप है कि होम में किशोरों को घटिया किस्म का खाना दिया जाता है। इसके अलावा रहने वाले किशोरों को बेरहमी से मारा पीटा जाता है। जिसके कारण मौका मिलते ही होम से किशोर फरार हो जाते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned