20 लाख का डोडा जब्त किया

20 लाख का डोडा जब्त किया

Ashutosh Kumar Singh | Publish: Feb, 15 2018 10:50:03 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

एनसीबी की टीम ने एसएसबी के साथ संयुक्त अभियान चलाकर नेपाल सीमा के नजदीक से 347 किलोग्राम डोडा के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया है।

कोलकाता

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की टीम ने सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के जवानों के साथ संयुक्त अभियान चलाकर नेपाल सीमा के नजदीक से 347 किलोग्राम डोडा (अफीम के फल का खोल) के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार तस्कर का नाम गोपाल महतो है। वह बिहार का रहने वाला है। उससे पूछताछ की जा रही है। जब्त डोडा की कीमत 20 लाख रुपए आंकी जा रही है। एनसीबी सूत्रों के अनुसार बुधवार रात विश्वसनीय सूत्रों से डोडा की तस्करी की खबर मिली थी। सूचना के आधार अभियान चलाकर सिलीगुड़ी के पानीटंकी इलाके में घोष पुकुर टोल प्लाजा के पास से गोपाल को पकड़ा गया और उसके पास से डोडा जब्त किया गया। डोडा टै्रक्टर पर लदा हुआ था। एनसीबी के एक अधिकारी ने बताया कि गोपाल से प्राथमिक पूछताछ में पता चला है कि वह मालदह जिले से डोडा खरीदा था। डोडा को नेपाल में तस्करी करने की योजना थी। डोडा का इस्तेमाल नशे के लिए किया जाता है। अफीम के फल के खोल को नशेड़ी पानी में डाल कर उबालते हैं और उस पानी को छानकर पी जाते हैं। यह अफीम जैसा नशा करता है।

-----------------------------------------------------------------------

 

Kolkata West bengal

 

5 साल की बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या
कोलकाता

बर्दवान जिले के केतुग्राम इलाके में पांच साल की एक बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या की शर्मनाक घटना सामने आई है। पड़ोस का एक युवक बुधवार को अपने साथ ले गया था, तब से उसका पता नहीं था। गुरुवार को गांव के नजदीक स्थित एक तालाब से मासूम का शव बरामद किया गया। आरोपी युवक का नाम जहांगीर शेख है। उससे पूछताछ की जा रही है। सूत्रों के अनुसार आरोपी ने गुनाह कबूल लिया है। जहांगीर के खिलाफ दुष्कर्म व हत्या की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।
---

चनाचूर खिलाने का लालच देकर की हैवानियत
स्थानीय सूत्रों के अनुसार जहांगीर बुधवार को चनाचूर खिलाने का लालच देकर अपने साथ ले गया था। देर शाम तक जब बच्ची घर नहीं लौटी तो उसके परिजनों ने जहांगीर से पूछताछ की। जहांगीर ने उन्हें बताया कि वह बच्ची को चनाचूर खिलाकर घर के नजदीक छोड़ गया था।

---
लोगों ने की पिटाई तो किया खुलासा

सारी रात खोजबीन के बाद जब बच्ची का कुछ पता नहीं चला तो परिजनों को जहांगीर पर संदेह हुआ। फिर बच्ची के परिवार वाले व उनके पड़ोस के लोगों ने जहांगीर को पकड़ कर पिटाई की तो उसने अपनी हैवानियत का खुलासा किया। फिर तालाब से बच्ची का शव बरामद किया गया। शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा गया है।

Ad Block is Banned