21 सौ साल पुरानी प्रतिमा की अनुकृति होगी आकर्षण का केन्द्र

21 सौ साल पुरानी प्रतिमा की अनुकृति होगी आकर्षण का केन्द्र

Nirmal Mishra | Publish: Oct, 13 2018 10:01:58 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

21 सौ साल पुरानी प्रतिमा की अनुकृति होगी आकर्षण का केन्द्र

- रामकृष्णपुर घाट के पास स्थापित होंगी दुर्गा

 

हावड़ा
रामकृष्ण स्वामीजी स्मृति संघ की ओर से हावड़ा के रामकृष्णपुर घाट के पास 21 सौ साल पुरानी दुर्गा प्रतिमा की अनुकृति दर्शकों को आकर्षित करने के लिए तैयार हो गई है।

पूजा आयोजक व संघ के अध्यक्ष सत्ब्रत सामंत ने कहा कि संघ युवा पीढ़ी को अपने गौरवशाली अतीत से परिचित कराने के लिए २१ सौ साल पुरानी प्राचीन मां दुर्गा के रूप को फिर से आम जनता के बीच में ला रहा है। पहले मां दुर्गा की पूजा बीच गंगा में किए जाने की योजना बनाई गई थी, लेकिन बारिश और तूफान के कारण योजना बदल दी गई है। अब आयोजन सडक़ के किनारे किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पर्यटन विभाग ने दर्शनार्थियों के लिए क्रूज की व्यवस्था की है। दर्शनार्थी क्रूज पर सवार होकर भी प्रतिमा को देख पाएं इसलिए प्रतिमा जमीन से ऊंचाई पर बनाई गई है। आयोजन राज्य के सहकारिता मंत्री अरुप राय की देख रेख में हो रहा है। हावड़ा स्टेशन से लेकर रामकृष्णपुर घाट तक प्रकाश सज्जा का प्रबंध किया गया है। प्रतिमा के निर्माण में चित्रकार शुभा प्रसन्ना का योगदान है।
दासनगर स्थित कामारडागा शीतला वारवारी की ओर से अपने 34 वें साल में पूजा की मुख्य थीम रफ्तार रखी गई है। आयोजक निर्मल नंदी ने बताया कि इतिहास में पीछे झांके तो मालूम चलता है कि मानव के आवागमन की रफ्तार तकनीक में हुए विकास के कारण बढ़ गई है। अब मोबाइल की रफ्तार ने आम लोगों की जिंदगी की रफ्तार को कुछ हद तक रोक दिया है। इसी थीम पर बने पूजा मंडप का उद्घाटन राज्य के सहकारिता मंत्री अरुप राय, विधायक जटू लाहड़ी, मेयर इन कॉन्सिल के सदस्य विभाष हाजरा ने संयुक्त रुप से किया। इस मौके पर विशेष अतिथि के रुप में मुख्य आकर्षण का केन्द्र बांग्ला फिल्म की अभिनेत्री ऋृतुपर्णा सेन गुप्ता थीं। पूजा कमेटी के अध्यक्ष सुशांत चन्द्र व कार्यकारी अध्यक्ष असित चटर्जी ने बताया कि कमेटी हर साल एक नई थीम देने का प्रयास करती है।

हावड़ा बाल्टीकुड़ी संजीव संघ ने 65 फुट उचाई वाला भगवान शिव वाला पूजा मंडप तैयार किया है। जिसमें मां दुर्गा विराजमान है। इस पूजा मंडप का उद्घाटन फिल्म अभिनेत्री ऋृतुपर्णा सेन गुप्ता ने किया।
सलकिया जटधारी पार्क पूजा के 87 वें वर्ष में पूजा मंडप को संथाली गांव का स्वरूप दिया गया है। पहाड़ के बीच में इस संथाल गांव में प्रतिदिन 70 महिलाएं गीत संगीत करते हुए प्रतिदिन शाम को दिखाई देंगी। शिवमंदिर में मां दुर्गा की आराधना होगी।

सलकिया आलापानी की ओर से इस बार मां दुर्गा को अधिकशक्तिशालिनी की थीम पर दर्शाया गया है।
घुसुड़ी तालतल्ला शक्ति मंदिर की ओर से इस बात तिरुपती मंदिर की अनुकृति बनाई गई है। दर्शक १५ फिट ऊपर चढऩे के बाद ही पहाड़ वाला पूजा मंडप देख पाएंगे।
सलकिया आलापानी की ओर से इस बार मां दुर्गा को अधिकशक्तिशालिनी की थीम पर दर्शाया गया है।
घुसुड़ी तालतल्ला शक्ति मंदिर की ओर से इस बात तिरुपती मंदिर की अनुकृति बनाई गई है। दर्शक १५ फिट ऊपर चढऩे के बाद ही पहाड़ वाला पूजा मंडप देख पाएंगे।

Ad Block is Banned