script80 percent of the group's land is lying vacant in Salbani. | सालबनी में खाली पड़ी है समूह की 80 प्रतिशत जमीन | Patrika News

सालबनी में खाली पड़ी है समूह की 80 प्रतिशत जमीन

locationकोलकाताPublished: Sep 20, 2023 11:46:53 pm

Submitted by:

Rabindra Rai

राज्य के पश्चिम मिदनापुर जिले के सालबनी में स्टील प्लांट लगाने के लिए जिंदल समूह को दी गई जमीन 80 प्रतिशत खाली पड़ी है। उसका इस्तेमाल नहीं हुआ है। पश्चिम मेदिनीपुर के कलक्टर खुर्शीद अली कदरी ने बताया कि सालबनी में बहुत सारी जमीन खाली पड़ी है। हमने पूरी रिपोर्ट भेज दी है।

सालबनी में खाली पड़ी है समूह की 80 प्रतिशत जमीन
सालबनी में खाली पड़ी है समूह की 80 प्रतिशत जमीन
स्टील प्लांट स्थापित करने के लिए ली थी जमीन
अब तक नहीं हुआ है इस्तेमाल
कोलकाता. राज्य के पश्चिम मिदनापुर जिले के सालबनी में स्टील प्लांट लगाने के लिए जिंदल समूह को दी गई जमीन 80 प्रतिशत खाली पड़ी है। उसका इस्तेमाल नहीं हुआ है। पश्चिम मेदिनीपुर के कलक्टर खुर्शीद अली कदरी ने बताया कि सालबनी में बहुत सारी जमीन खाली पड़ी है। हमने पूरी रिपोर्ट भेज दी है। हाल ही में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि जिन उद्योगपतियों ने उद्योग लगाने के लिए जमीन ली थी लेकिन लंबे समय से उस पर कुछ नहीं किया है सरकार उसे वापस ले लेगी।
--
प्लांट लगाने की थी योजना
डेढ़ दशक पहले जिंदल समूह ने इस्पात कारखाना लगाने के लिए सालबनी में
4101. 97 एकड़ जमीन ली थी। तब राज्य में वाममोर्चा की सरकार थी। भूमि विभाग के अनुसार जिंदल समूह ने 849.02 एकड़ जमीन पर सीमेंट कारखाना स्थापित किया। कुछ जमीन पर रंग कारखाना स्थापित किया जा रहा है। कुल मिलाकर 20 प्रतिशत जमीन का उपयोग हुआ है। 3252.95 एकड़ जमीन खाली पड़ी है। उस पर प्लांट लगाने की योजना थी।
--
और 1500 एकड़ जमीन रख सकता है समूह
जिंदल समूह संभवत: और करीब 1500 एकड़ जमीन रखकर बाकी वापस कर सकता है। राज्य सचिवालय नवान्न के अधिकारियों ने बताया कि सालबनी में पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के स्टील प्लांट के लिए कितनी जमीन दी जाएगी? सरकार ने इस बारे में अभी कोई निर्णय नहीं लिया है। गांगुली ने वहां प्लांट लगाने की घोषणा की है।
--
सालबनी परियोजना क्षेत्र की जमीन
कुल जमीन 4101. 97 एकड़
खास जमीन 3000 एकड़
लोगों से खरीदी गई लगभग 290 एकड़
पशुपालन विभाग की जमीन 790 एकड़
--
यह हुआ है स्थापित
सीमेंट कारखाना
बिजली उत्पादन केंद्र
कृषि केंद्र
फुटबॉल अकादमी
रंग कारखाना तैयार हो रहा है
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.