अधीर ने लिखा राहुल गांधी को पत्र

अधीर ने लिखा राहुल गांधी को पत्र

Prabhat Kumar Gupta | Publish: Apr, 17 2018 09:53:40 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सांसद अधीर रंजन चौधरी ने पंचायत चुनाव हिंसा को लेकर पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र के माध्यम से सूचित किया है।

अधीर ने लिखा राहुल गांधी को पत्र

- कहा, बंगाल में पंचायत चुनाव हिंसा असहनीय
कोलकाता.

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव को लेकर व्याप्त राज्यव्यापी हिंसा असहनीय है। सत्तारूढ़ दल और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रदेश में लोकतंत्र को हाशिए पर ला दिया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सांसद अधीर रंजन चौधरी ने मंगलवार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को एक पत्र के माध्यम से सूचित किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार तथा तृणमूल सुप्रीमो अपनी गलतियों और अहंकार को ढकने के लिए तरह तरह के हथकण्डे अपना रही हैं। हिंसा के बीच पिछले 2 अप्रेल से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हुई। मुर्शिदाबाद, पूर्व व पश्चिम बर्दवान, बीरभूम, बांकुड़ा समेत दक्षिण बंगाल के जिलों में तृणमूल के लोगों ने कांग्रेस समेत अन्य विरोधी दल के उम्मीदवारों को नामांकन करने नहीं दिया। लोकतंत्र की दुहाई देने वाली मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के राज्य में हजारों की संख्या में ग्रामीण नामांकन करने से वंचित हैं। अधीर ने कहा कि बंगाल में पंचायत चुनाव हिंसा में बदल गई है। कांग्रेस के जमीनी स्तर के कार्यकर्ता अपने स्तर पर पुलिस प्रशासन और हिंसा का मुकाबला कर रहे हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने पंचायत चुनाव को लेकर कलकत्ता हाईकोर्ट के एकल पीठ में चल रही सुनवाई को लेकर भी पार्टी अध्यक्ष गांधी को जानकारी दी है।

माकपा से दोस्ती का राग अलापा-
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी ने एक बार फिर माकपा से दोस्ती का राग अलापा है। पंचायत चुनाव को लेकर व्याप्त हिंसा का मुकाबला करना समय की मांग है। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव तो नहीं हो रहा है। चुनाव हिंसा का रूप ले लिया है। सत्तारूढ़ दल जहां विरोधी विहीन पंचायतों के गठन का ऐलान किया है वहां माकपा और कांग्रेस को एक मंच पर आना जरूरी है। चौधरी ने कहा कि वे चाहते हैं कि दोनों दलों के बीच चुनावी समझौता फिर से हो। जैसा कि 2016 के विधानसभा चुनाव में दोनों पार्टियां एक साथ लड़ी थी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned