Shah's declaration of political war: सीएए पर अडिग अमित शाह ने कोलकाता में फूंका चुनावी बिगुल

दिल्ली में व्यापक हिंसा के बावजूद संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) पर अडिग रहने का एलान करते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कोलकाता में अगले राज्य विधानसभा चुनाव का बिगुल फूंका। उन्होंने ममता बनर्जी की सरकार के कथित अन्याय के खिलाफ आर नय अन्याय यानि और नहीं अन्याय अभियान का आगाज किया और पांच साल में भ्रष्टाचार मुक्त सोनार बांग्ला बनाने का दावा किया।

By: Manoj Singh

Updated: 01 Mar 2020, 09:48 PM IST

कहा, दो तिहाई बहुमत से बंगाल में भाजपा बनाएगी सरकार

पांच साल में भ्रष्टाचार मुक्त सोनार बांग्ला बनाने का दावा किया

कोलकाता
दिल्ली में व्यापक हिंसा के बावजूद संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) पर अडिग रहने का एलान करते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कोलकाता में अगले राज्य विधानसभा चुनाव का बिगुल फूंका। उन्होंने ममता बनर्जी के कथित अन्याय के खिलाफ और नहीं अन्याय अभियान शुरू करते हुए दो तिहाई बहुमत से बंगाल में भाजपा सरकार बनाने और इसे पांच साल में भ्रष्टाचार मुक्त सोनार बांग्ला बनाने का दावा किया।

सीएए के समर्थन और अपने सम्मान में कोलकाता के ऐतिहासिक शहीद मीनार मैदान में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए शाह ने और नहीं अन्याय प्रचार अभियान का आगाज किया। उन्होंने कहा कि यह अभियान ममता सरकार के अन्याय के खिलाफ जन-जन तक जाने, इस सरकार को पलटने और बंगाल में विकास लाने वाला है। अब हम सरकार के अन्याय के खिलाफ आवाज उठाएंगे। यह लड़ाई कठिन है लेकिन बंगाल के विकास के लिए अन्याय का विरोध करना होगा।

ममता बनर्जी मोदी सरकार को बंगाल का विकास नहीं करने दे रही है। बंगाल में भाजपा सरकार बनाने का मौका दीजिए। हम पांच साल में टैगोर के सपनों वाला सोनार बांग्ला बना देंगे। उन्होंने एक मोबाइल नंबर जारी करते हुए कहा कि यही मोबाइल नंबर बंगाल को भ्रष्टाचार मुक्त करेगा और लोगों में कवि गुरु टैगोर की चेतना जगाएगा और ममता बनर्जी की सरकार को उखाड़ फेंकेगा।

सीएए के लागू करने पर अडिग रहते हुए शाह ने कहा कि कभी ममता बनर्जी ने घुसपैठियों को रोकने के लिए संसद को चलने नहीं दिया था और आज सत्ता में आने के बाद वोटबैंक के लिए सीएए का विरोध कर रही हैं। ममता समेत विपक्षी दल इसे लागू करने से हमें नहीं रोक सकते हैं। शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता दे कर ही दम लेंगे।

जयपुर शहर परकोटे से निकली खाटूश्यामजी के लिए पदयात्राएं

सरकार बनाकर यात्रा होगी समाप्त
शाह ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा के जमानत जब्त होने के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के दावे के बावजूद बंगाल में भाजपा की जीत की यात्रा जारी रही। वर्ष 2014 में हमें 27 लाख मत मिले थे। 2019 में दो करोड़ 30 लाख मत मिले और राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 सीटें मिली। यह यात्रा बंगाल के विकास करने, यहां से भ्रष्टाचार, घुसपैठ और सिंडिकेट समाप्त करने की है और यह 2021 में विधानसभा चुनाव में दो तिहाई बहुमत हासिल कर बंगाल में सरकार बना कर ही समाप्त होगी।
शहजादा नहीं बनेगा यहां का सीएम

उन्होंने इशारों में ममता बनर्जी के सांसद भतीजे अभिषेक बनर्जी को मुख्यमंत्री नहीं बनने देने का दावा किया। उन्होंने कहा कि लोगों को दबाने, भ्रष्टाचार करने और अपने राजकुमार को मुख्यमंत्री बनाने की विचारधारा अब नहीं चलेगी। कोई शहजादा बंगाल का मुख्यमंत्री नहीं बनेगा। यहां की जमीन से उठ कर आया हुआ कोई व्यक्ति ही सीएम बनेगा।

Amit Shah
Show More
Manoj Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned