अब मुंगेर से राज्य में आ रहे असलहा बनाने वाले

अब मुंगेर से राज्य में आ रहे असलहा बनाने वाले

Nirmal Mishra | Updated: 20 Dec 2018, 11:08:42 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

अब मुंगेर से राज्य में आ रहे असलहा बनाने वाले

- पुलिस की कड़ाई से बदला अपराध का ट्रेंड

 

हावड़ा
पहले बिहार के मुंगेर से अवैध हथियार लाए जाते थे लेकिन अब उल्टा हो गया है बिहार के मुंगेर के कारीगर ही बंगाल में अवैध अस्त्र कारखानों में हथियार बना रहे हैं। इसका ताजा उदाहरण टिकियापाड़ा के गंगा राम बैरागी लेन में मिला अवैध हथियार का कारखाना है। जिसमें बिहार के मुंगेर के तीन कारीगरों को हथियार तैयार करने के काम लगाया गया था। बताया जाता है कि बिहार के मुंगेर से हथियारों की तस्करी बंद हो गई है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण पुलिस की बढ़ती निगरानी है। राज्य पुलिस, सरकारी रेलवे पुलिस व आरपीएफ की निरंतर निगरानी के कारण मुंगेर से हथियार लाने का धंधा पूरी तरह से दम तोड़ चुका है।

हावड़ा जीआरपी ने कई बार डाउन जमालपुर एक्सप्रेस से हथियारों की खेप पकड़ी थी। उसी दौरान तस्करों ने खुलासा किया कि वे हथियारों की मेटियाब्रुज सहित राज्य के विभिन्न जिलों में आपूर्ति करते थे। राज्य में इन्हीं अवैध हथियारों के बल पर चुनाव में हिंसा व गड़बड़ी फैलाई जाती थी। हिंसा में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद उनसे पूछताछ के बाद ही पुलिस को इस बात की खबर मिली कि हथियार यहीं हथियार तैयार किए जा रहे हैं। पुलिस ने अवैध हथियारों के कारखानों का समय समय पर पर्दाफाश किया। जिससे यह पता चला कि मुंगेर के कारीगरों को मोटी रकम का प्रलोभन देकर बंगाल में अवैध हथियार बनाया जा रहा था।
इनका कहना है

अवैध हथियार की खपत हावड़ा या कोलकाता में नहीं बल्कि बिहार सहित अन्य राज्यों में की जाती थी। यह अवैध हथियार का कारखाना दो माह पहले ही चालू हुआ था। गिरफ्तार सभी तीन आरोपी बिहार के मुंगेर के रहने वाले हंै। उनसे पूछताछ के बाद कुछ अन्य लोगों का नाम मिला है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

तन्मय राय चौधरी, पुलिस आयुक्त, हावड़ा सिटी पुलिस।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned