सौ करोड़ की हेराफेरी में एयरपोर्ट अथॉरिटी अधिकारी गिरफ्तार

Shankar Sharma

Publish: Oct, 13 2017 12:30:12 (IST)

Kolkata, West Bengal, India
सौ करोड़ की हेराफेरी में एयरपोर्ट अथॉरिटी अधिकारी गिरफ्तार

कार्गों में सौ करोड़ रुपए के सामान की हेराफेरी में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से एयरपोर्ट अथॉरिटी के एक अधिकारी को गुरुवार

कोलकाता. कार्गों में सौ करोड़ रुपए के सामान की हेराफेरी में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से एयरपोर्ट अथॉरिटी के एक अधिकारी को गुरुवार को गिरफ्तार किया गया। अस्पताल से बाहर निकलते ही कस्टम्स की विशेष जांच शाखा, एयरपोर्ट कस्टम्स के अधिकारियों ने आरोपी अधिकारी सम्पत नारायण मुखर्जी को दबोच लिया। कोर्ट ने उसे १४ दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया।


सूत्रों के अनुसार लम्बे समय से हवाई अड्डे के कार्गो में तस्करी के मामले सामने आ रहे थे। इन तस्करी में कार्गों एजेंट, हैंडलिंग एजेंट, एयरपोर्ट अथॉरिटी के कई अधिकारियों के शामिल होने की खबरे थी। एसआईबी, एयरपोर्ट कस्टम्स अधिकारियों ने इन पर नजर रखी थी। लगातार तस्करी की खबरें मिल रही थी। कहीं कस्टम्स ड्यूटी चोरी की जा रही थी। कहीं माल की हेराफेरी की जा रही थी।

आरोपी अधिकारी कुछ दिनों से आईएलएस अस्पताल में भर्ती थे। एसआईबी के अधिकारी उसके अस्पताल से छुट्टी मिलने का इंतजार कर रहे थे। गुरुवार को छुट्टी मिलते ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसे अदालत में पेश किया गया। कोर्ट ने उसे १४ दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

और होंगी गिरफ्तारियां
सूत्रों ने बताया कि अभी बहुत सारे नामों का खुलासा होगा। और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं। एयरपोर्ट के कार्गों में तस्करी का कारोबार चल रहा है। मामले में छोटे से लेकर बड़े अधिकारियों के नाम सामने आ सकते हैं। इनमें कुछ राजनीति पार्टी के लोगों के नाम भी सामने आ सकते हैं।

हिरण के मिले सींग, १ गिरफ्तार
वन विभाग तथा एसएसबी की संयुक्त छापेमारी में हिरण के दो सींग के साथ एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया। गोपाल थापा भूटान के सीमाई क्षेत्र के जयगांव शहर का रहने वाला है। गुरुवार सुबह ९ बजे गुप्त सूचना के आधार पर अलीपुरदुआर के सिमलाबाड़ी ५३ नम्बर बटालियन के जवान तथा कूचबिहार के वन विभाग के साथ संयुक्त रूप से छापेमारी की। जयगांव के मंगलाबाड़ी इलाके से एक व्यक्ति के घर से गिरफ्तार किया। गोपाल थापा की सींग को भूटान तस्करी की योजना थी। सूत्रों का कहना है कि गोपाल बहुत पहले से ही वन्य प्राणी की तस्करी के मामलों से जुड़ा हुआ था।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned