हुगली के खानाकुल में सालिसी सभा में महिला के साथ बर्बरता

Ashutosh Kumar Singh

Publish: Jul, 13 2018 08:18:47 PM (IST)

Kolkata, West Bengal, India
हुगली के खानाकुल में सालिसी सभा में महिला के साथ बर्बरता

- समाज के कथित ठेकेदारों ने किया जलील, मारपीट, काट लिए बाल
- छह युवकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज, एक गिरफ्तार

कोलकाता

पश्चिम बंगाल में गैर-कानून सालिसी सभा में समाज के कथित ठेकेदारों की ओर से महिला पर बर्बर कार्रवाई की फिर एक घटना सामने आई है। बाजार में परिचित युवक से बातचीत करने को लेकर महिला को न केवल सार्वजनिक तौर पर जलील किया गया, बल्कि उसे बेरहमी से मारा-पीटा गया और उसके बाल काट दिए गए। राज्य की कानून-व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़ा करने वाली यह घटना हुगली जिले के खानाकुल इलाके की है। पीडि़त महिला के पति ने इस संबंध में छह युवकों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। समाचार लिखे जाने तक मामले में आरोपियों में से एक जने की गिरफ्तारी हुई थी। बाकी आरोपियों की पुलिस तलाश कर रही है।

---
क्या है मामला

महिला बुधवार को स्थानीय बाजार गई थी। बाजार में उसने एक युवक के साथ खड़े होकर कुछ देर तक बातचीत की थी। गांव के कुछ युवकों ने मोबाइल से उनकी तस्वीरें खींच ली थी। युवकों ने समाज के कथित ठकेदारों को उक्त फोटो दिखाई। महिला के चरित्र पर सवालिया निशान खड़ा करते हुए सालिसी सभी बुलाई। सभा में सरेआम महिला के चरित्र पर कीचड़ उछाला गया। उसके साथ मारपीट की गई। फिर उसे रस्सी से बांध दिया गया और उसके बाल काट लिए गए। अगले दिन सुबह भी महिला के घर पर कुछ युवकों ने हमला किया। उसे भ²ी-भ²ी गालियां दी।
----

इनका कहना है
सात साल पहले हमारी शादी हुई थी। एक बच्चा भी है। मेरी पत्नी पर झूठा आरोप लगाया गया है। वह चरित्रहीन नहीं है। परिचित युवक से बाचतीच करने में कोई बुराई नहीं है। मेरी पत्नी और मेरी इज्जत के साथ खिलवाड़ किया गया है।

पीडि़त महिला का पति
---

पहले भी हो चुकी है इस तरह की कई घटना
इससे पहले भी राज्य के मालद, मुर्शिदाबाद, पश्चिम मिदनापुर, बीरभूम, पूर्व मिदनापुर आदि जिले में महिलाओं पर इस तरह की बर्बर कारवाई की जा चुकी है। बीरभूम जिले के लाभपुर इलाके गैर जाति के युवक के प्रेम करने को लेकर सालिसी सभा में आदिवासी युवती को गैंगरेप की सजा सुनाई गई थी। गांव के १३ युवकों ने सरेआम उक्त युवती के साथ रेप किया था।

Ad Block is Banned