बंगाल: विक्षिप्त ने 4 लोगों को पीट-पीटकर मार डाला

पश्चिम बंगाल के पश्चिम बर्दवान जिले में हत्या की एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है। जामुडिय़ा थाना अंतर्गत वार्ड नंबर 2 के शिवपुर माझीपाड़ा स्थित शराब की एक दुकान पर एक सिरफिरे शख्स ने चार लोगों की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी। घटना के बाद पुलिस ने आरोपी को धर दबोचा है। वह मानसिक रूप से विक्षिप्त बताया जा रहा है।

By: Rabindra Rai

Published: 13 Nov 2020, 10:41 PM IST

कोलकाता. पश्चिम बंगाल के पश्चिम बर्दवान जिले में हत्या की एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है। जामुडिय़ा थाना अंतर्गत वार्ड नंबर 2 के शिवपुर माझीपाड़ा स्थित शराब की एक दुकान पर एक सिरफिरे शख्स ने चार लोगों की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी। घटना के बाद पुलिस ने आरोपी को धर दबोचा है। वह मानसिक रूप से विक्षिप्त बताया जा रहा है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि चारों मजदूर थे। इनमें से तीन शराब दुकान में काम करते थे। मृतकों की पहचान अंबुज मंडल(40), कालिया भुइयां (60), प्रशांत साहा (58) और सुबोध बाउरी (60) के रूप में हुई है।
पुलिस अधिकारी ने बताया कि आसनसोल के शिवपुर इलाके में शराब की एक दुकान के अंदर तीन लोग सो रहे थे तभी आधी रात साधु हेम्ब्रम (35) नामक मानसिक अवसादग्रस्त युवक ने अचानक डंडे से उन्हें बेतरतीब ढंग से पीटना शुरू कर दिया। वह ताबड़तोड़ वार करता रहा। लोगों की चीखें सुनकर कुछ स्थानीय लोग वहां पर पहुंचे। कुछ लोगों ने नजदीक के पुलिस थाने को घटना की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बाहर आकर आरोपी ने मौके पर पहुंचे एक और व्यक्ति पर हमला कर दिया। स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिस के सामने विक्षिप्त ने कालिया भुइयां को पीट कर मार डाला। उसे बचाने की बजाय पुलिसकर्मी भागते नजर आए। बाद में जामुडिय़ा थाने की पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया और पिटाई में गंभीर रूप से घायल हुए चार लोगों को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। एसीपी सेंट्रल (दो) तथागत पांडे ने बताया कि आरोपी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।
--
खुशियों के त्योहार से पहले मातम
प्रारंभिक जांच से पता चला है कि आरोपी साधु हेम्ब्रम को तीन दिन पहले कार्तिक बाउरी नामक व्यक्ति से किसी बात को लेकर हुए विवाद में गिरफ्तार किया गया था। गुरुवार रात को ही पुलिस ने उसे रिहा किया था। पुलिस शराब की दुकान पर मौजूद अन्य लोगों से पूछताछ कर रही है। खुशियों के त्योहार दीपावली से पहले हुई इस हृदयविदारक घटना से इलाके में मातम पसर गया है।

Rabindra Rai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned