बंगाल: कोरोना से जारी लड़ाई में 7 माह में 57 चिकित्सकों की मौत

कोरोना वायरस के खिलाफ जारी लड़ाई में पश्चिम बंगाल में अग्रिम मोर्चे पर तैनात अधिकारियों की भी जान जा रही है। पिछले सात महीने में 57 डॉक्टरों की मौत की खबर है, जबकि कम से कम 14 सरकारी अधिकारियों की मौत संक्रमण के कारण हो चुकी है। सरकार के एक और अधिकारी की मौत गत शुक्रवार को हो गई है।

By: Rabindra Rai

Published: 24 Oct 2020, 12:41 PM IST

कोलकाता. कोरोना वायरस के खिलाफ जारी लड़ाई में पश्चिम बंगाल में अग्रिम मोर्चे पर तैनात अधिकारियों की भी जान जा रही है। पिछले सात महीने में 57 डॉक्टरों की मौत की खबर है, जबकि कम से कम 14 सरकारी अधिकारियों की मौत संक्रमण के कारण हो चुकी है। सरकार के एक और अधिकारी की मौत गत शुक्रवार को हो गई है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के मुताबिक कूचबिहार के सीतलकुची के प्रखंड विकास अधिकारी (बीडीओ) के पद पर तैनात वांग्डी ग्यालपो भूटिया की मौत हो गई। उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट किया कि हममने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एक और सहयोगी को खो दिया। वह कुछ समय से इस बीमारी से पीडि़त थे।
--
सरकार करेगी मदद
राज्य सचिवालय के एक अधिकारी ने बताया कि सरकार बीडीओ भूटिया के परिवार को हर संभव सहायता प्रदान करेगी। राज्य में गत शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 4,143 नए मामले सामने आए। इसके बाद राज्य में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 3,41,426 हो गई। राज्य के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन में यह जानकारी दी गई।
--
पहले 3 अब रोजाना 4 हजार नए मामले
बुलेटिन में कहा गया कि राज्य में कोविड-19 से 60 और मरीजों की मौत हो गई जिसके बाद मृतकों की संख्या 6,368 पर पहुंच गई। पिछले चौबीस घंटे में कोविड-19 के 3,676 मरीज ठीक हो गए। बुलेटिन के अनुसार अभी राज्य में रोज कम से कम 4 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं, पहले 3 हजार लोग नए सिरे से संक्रमित होते थे। रोजाना मौत का आंकड़ा भी 60 के आसपास बना हुआ है।

Corona virus कोरोना वायरस
Rabindra Rai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned