बंगाल: छात्रा से रेप नहीं-पुलिस

पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर में छात्रा के साथ कथित गैंगरेप और हत्या मामले में नया खुलासा हुआ है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट को लेकर पुलिस ने दावा किया है कि छात्रा की मौत का कारण जहर था। उसके शरीर पर चोट का कोई निशान नहीं था। यौन और शारीरिक हिंसा के भी निशान नहीं हैं। पुलिस ने रेप की घटना से इनकार किया है

By: Rabindra Rai

Published: 20 Jul 2020, 05:39 PM IST

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट को लेकर किया दावा
रिपोर्ट में मौत का कारण जहर, शरीर पर चोट का निशान नहीं
कोलकाता.
पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर में छात्रा के साथ कथित गैंगरेप और हत्या मामले में नया खुलासा हुआ है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट को लेकर पुलिस ने दावा किया है कि छात्रा की मौत का कारण जहर था। उसके शरीर पर चोट का कोई निशान नहीं था। यौन और शारीरिक हिंसा के भी निशान नहीं हैं। पुलिस ने रेप की घटना से इनकार किया है। हालांकि, रासायनिक परीक्षकों की रिपोर्ट आने तक अंतिम राय नहीं दी जा सकती। छात्रा के बलात्कार और हत्या के संदेह पर लोगों ने गत रविवार को भारी बवाल किया था। चोपरा इलाके में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 31 पर पुलिस के कई वाहनों और सरकारी बसों को आग लगा दी गई थी।
--
मामले में राजनीति शुरू
इस मामले में राजनीति भी शुरू हो गई है। प्रदेश भाजपा ने दावा किया कि पीडि़ता एक स्थानीय नेता की बहन थी और सत्तारूढ़ दल के नेता ने रेप और हत्या की। सत्तारूढ़ दल ने आरोपों को खारिज कर दिया। साथ ही भाजपा पर लोगों के एक वर्ग को उकसाने और शांति भंग करने की कोशिश करने का आरोप लगाया है। पार्टी ने कहा कि वो इस मामले पर राजनीति नहीं चाहती है।
--
लोगों ने किया था बवाल
इस घटना से आक्रशित लोगों ने कलागाछ में पुलिस पर जमकर पत्थरबाजी की। इस दौरान सड़क पर पत्थरों का ढेर इक_ा हो गया। उपद्रवियों ने गाडिय़ों को भी आग के हवाले कर दिया। पुलिसकर्मियों ने उपद्रवियों को वहां से भगाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े।
--
क्या है घटना
रविवार की सुबह जब किशोरी शौच के लिए घर से बाहर निकली थी तब कथित तौर पर उसका अपहरण कर लिया गया था। कुछ घंटों बाद उसका शव मिला था और गांववालों का आरोप था कि बलात्कार के बाद किशोरी की हत्या की गई थी। पुलिस ने कहा कि अब तक उन्होंने हिंसा में शामिल 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कहा कि अभी तक कोई शिकायत दर्ज नहीं हुई है। परिजनों की तरफ से भी घटना पर कोई तहरीर नहीं दी गई।

Rabindra Rai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned