दक्षिण बंगाल के तृणमूल के गढ़ में भाजपा नहीं लगा पाई सेंध

दक्षिण बंगाल के तृणमूल के गढ़ में भाजपा नहीं लगा पाई सेंध

Jyoti Dubey | Updated: 27 May 2019, 06:27:57 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

- दक्षिण कोलकाता, जादवपुर, डायमंड हार्बर, मथुरापुर और जयनगर में तृणमूल की पकड़ बरकरार, भाजपा रही दूसरे स्थान पर।

कोलकाता. लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती बंगाल की लोकसभा सीटें थी। इस राज्य में अपना दबदबा बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और दूसरे सभी राष्ट्रीय स्तर के नेताओं ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी। बंगाल में भाजपा को इसका पूरा लाभ भी मिला और राज्य के विभिन्न जिलों में अपनी पैठ बनाने में सफल भी हुई। बार-बार जनसभाएं और बैठकें करने के बावजूद राज्य के दक्षिणी हिस्से में तृणमूल का गढ़ माना जाता है वहां भाजपा सेंध लगा पाने में सफल नहीं हो पाई।

ममता बनर्जी के संसदीय क्षेत्र रह चुके दक्षिण कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस की उम्मीदवार माला राय ने बम्पर वोट हासिल किया। वहीं जादवपुर, डायमंड हार्बर, मथुरापुर और जयनगर में भी तृणमूल उम्मीदवारों ने अच्छा प्रदर्शन किया है। समाचार लिखे जाने तक इन सभी सीटों पर तृणमूल उम्मीदवार लगभग 1 से 1.5 लाख वोटों से आगे चल रहे थे। भले ही इन सभी सीटों पर भाजपा पहले स्थान के करीब नहीं पहुंच सकी लेकिन उसने माकपा का पत्ता साफ कर दूसरा स्थान पा लिया है। बताया जाता है कि इन क्षेत्रों के माकपा व कांग्रेस के परंपरागत वोट भाजपा की ओर शिफ्ट हुए हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned