भाजपा समर्थकों ने किया हावड़ा ब्रिज अवरोध

ग्रामीण जिलाध्यक्ष पर हमले का विरोध

By: Ashutosh Kumar Singh

Published: 04 Jan 2018, 10:23 PM IST

हावड़ा
हावड़ा ग्रामीण के भाजपा जिलाध्यक्ष अनुपम मल्लिक पर उदयनारायणपुर में बुधवार की रात को हुए हमले के विरोध में गुरुवार की शाम को भाजपा समर्थकों ने हावड़ा ब्रिज पर पथावरोध कर यातायात ठप किया। इस दौरान गुस्साए भाजपा समर्थकों ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का पुतला फंूका। पुलिस व सरकार विरोधी नारे लगाए।

प्रदर्शन की अगुवाई हावड़ा जिला भाजपा के अध्यक्ष सुरोजित साहा, पूर्व जिलाध्यक्ष देवांजल चटर्जी, भाजयुमो जिलाध्यक्ष प्रभाकर पंडित, जिला महासचिव ओम प्रकाश सिंह ने किया। जुलूस में महिला कार्यकता भी शामिल रहीं। भाजपा के प्रदर्शन को देखते हुए हावड़ा ब्रिज पर पुलिस के जवान रैफ व कॉम्बैट फोर्स तैनात की गई थी। इसके बावजूद भाजना समर्थकों ने शाम सवा चार बजे से १५ मिनट तक अप व डाउन लेन में जाम लगाया। आंदोलन के कारण ट्रेन पकडऩे वाले यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं बंकिम सेतु, एचआईटी ब्रिज, स्ट्रैन्ड रोड व महात्मा गांधी रोड तक जाम लग गया।
हावड़ा सिटी पुलिस की ओर से गोलाबाड़ी थाना के प्रभारी तथागत पाण्डेय व यातायात विभाग के प्रभारी प्रदीप कुमार जाना ने आंदोलनकारियों को समझा बुझाकर आंदोलन समाप्त कराया। वाहनों की आवाजाही शुरू हुई।

इससे पहले हावड़ा सदर के भाजपा कार्यालय से जुलूस निकाला गया। जो हावड़ा मैदान, फांसीतल्ला मोड़, जी टी रोड, चांदमारी ब्रिज होते हुए हावड़ा ब्रिज एप्रोच रोड होते हुए हावड़ा ब्रिज पर पहुंचा।
जुलूस में भाजपा नेता नव कुमार दे, सुमीत पारुई, अमरजीत सिंह, अवधेश साव, बद्री नारायण सिंह, विनय अग्रवाल, भाजयुमो नेता योगेश सिंह, विशाल जायसवाल, आन्नद सोनकर, पिंकी मुखर्जी, अभरुपा चटर्जी, महेश बिनानी, सुजीत मल्लिक मौजूद थे।

हावड़ा सदर के अध्यक्ष सुरोजित साहा ने कहा कि अनुपम मल्लिक ने बुधवार को हुए हमले के बाद पुलिस थाने में शरण ली पर पुलिस ने उनकी कोई मदद नहीं की। मल्लिक पर फायरिंग भी की गई। बुधवार की रात को भाजपा समर्थकों ने उलूबेडि़या के मंशातल्ला के समीप राजमार्ग संख्या ६ पर यातायात व्यवस्था ठप की तो पुलिस ने लाठी चार्ज कर उन्हें हटा दिया। पार्टी पुलिस प्रशासन की इस कार्रवाई का विरोध कर रही है।

भाजयुमो के जिला महासचिव ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि मल्लिक उदयनारायणपुर में तृणमूल समर्थकों के हमले का शिकार बने भाजपा नेता मोहित बेरा से मिलने गए थे। जब वे वहां से जब लौट रहे थे तो उनपर हमला किया गया। वाहन में तोड़ फोड की गई। पुलिस मूक दर्शक बनी रही। उसी को लेकर गुरुवार को हावड़ा ब्रिज अवरोध किया गया।

Ashutosh Kumar Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned