राज्य में सीएए, एनआरसी और एनपीआर लागू नहीं होगा - प्रसून बनर्जी

राज्य में सीएए, एनआरसी और एनपीआर लागू नहीं होगा - प्रसून बनर्जी

राज्य में सीएए, एनआरसी और एनपीआर लागू नहीं होगा - प्रसून बनर्जी

- पीलखाना में निकाली विरोध रैली की अगुवाई

- जुलूस के दौरान लोगों को दिलाया भरोसा

हावड़ा .

हावड़ा नगर निगम के वार्ड नंबर 16 में सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में गुरुवार शाम को रैली निकाली गई। रैली की अगुवाई हावड़ा के सांसद प्रसून बनर्जी ने की। उनके साथ इलाके के पूर्व तृणमूल पार्षद मोहम्मद रुस्तम भी मौजूद रहे। वार्ड में प्रत्येक गली व सडक़ से जुलूस के साथ सांसद गुजरे और लोगों को भरोसा दिलाया कि जब तक मुख्यमंत्री ममता बनर्जी है तब तक राज्य में सीएए, एनआरसी और एनपीआर लागू नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोलकाता के पार्क सर्कस में अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाएं कई दिनों से इसको लेकर धरना दे रही हैं। उन्होंने कहा कि वे संसद में भी इसको लेकर आवाज बुलंद करेंगे।

सांसद ने कहा कि हमारी नजर में हिंदू व मुस्लिम दोनों मेरे भाई हैं। भाजपा ने समाज के भाइयों के विभाजन की साजिश रची है उसे हम कभी कामयाब नहीं होने देंगे। उन्होंने प्रत्येक व्यक्ति से हाथ जोडक़र कहा कि मैं आपका सांसद हूं। आप के मतों से ही मैं जीतकर संसद में गया हूं। आपको डरने की कोई जरूरत नहीं है। मैं आपके साथ हूं। केंद्र सरकार को इस कानून को देश में हो रहे आंदोलन के कारण वापस लेना ही होगा। वे पिलखाना बाजार, पीलखाना फस्र्ट लेन, सेकंड लेन, थर्ड लेन, मदरतल्ला लेन, जीटी रोड में लोगों के बीच जाकर उन्हें आश्वस्त किया। रैली में वार्ड के अध्यक्ष अख्तर अंसारी, मोहम्मद इरफान, बदरे आलम खान, लियाकत खान, शेख अब्दुल्ला और फिरोज अख्तर जैसे तृणमूल नेता भी शामिल हुए। सांसद प्रसून बनर्जी से हाथ मिलाने व उनके साथ सेल्फी लेने के लिए युवाओं में होड़ मची रही।

Nirmal Mishra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned