अभिषेक बनर्जी की पत्नी को घेरने में जुटी सीबीआई

अकाउंट डिटेल्स के लिए एफआईयू को लिखा पत्र

By: Krishna Das Parth

Updated: 25 Feb 2021, 10:13 PM IST

कोलकाता.
अवैध कोयला खनन और तस्करी के मामले में संदिग्ध संलिप्तता के आरोप में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की बहू और अभिषेक की पत्नी रूजीरा बनर्जी को घेरने के लिए सीबीआई ने जाल बिछाना शुरू कर दिया है। डायमंड हार्बर से मुख्यमंत्री के सांसद भतीजे अभिषेक की पत्नी रूजीरा से गत मंगलवार को पूछताछ करने के बाद अब सीबीआई ने उनके बैंक खाते में हुए लेनदेन का ब्यौरा निकालना शुरू किया है। जांच एजेंसी के सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि सीबीआई की ओर से फाइनेंशियल इंटेलिजेंस यूनिट (एफआईयू) को चि_ी लिखी गई है जिसमें रूजीरा नरूला बनर्जी के बैंक खाते में हुई लेनदेन की सारी जानकारी मांगी गई है। आरोप है कि कोयला तस्करी के सरगना अनूप मांझी के ब्लैक मनी को रूजीरा के बैंकॉक और लंदन स्थित खाते में ट्रांसफर किए गए हैं। सीबीआई पूछताछ के दौरान रूजीरा ने दावा किया था कि किसी भी दूसरे देश में उनका कोई खाता नहीं है। विशेषज्ञों ने बताया है कि किसी भी प्रवासी भारतीय अथवा भारतीय नागरिक का विदेश में कोई खाता होता है तो उसमें होने वाली लेनदेन और खाते की पूरी जानकारी फाइनेंशियल इंटेलिजेंस यूनिट के पास होती है। अगर एफआइयू इस बात की पुष्टि करती है कि रूजीरा बनर्जी के विदेश में खाते हैं तब सीबीआई के पास उन्हें गिरफ्तार करने के लिए आधार होंगे। झूठ बोलकर तथ्यों को छिपाने और जांच को गुमराह करने के आरोप में उनकी गिरफ्तारी का अधिकार सीबीआई के पास है। जांच एजेंसी के सूत्रों ने बताया है कि अगले सप्ताह तक इस बारे में पूरी जानकारी देने का अनुरोध एफआईयू से किया गया है। अगर जांच एजेंसी के अनुरोध पर एफआईयू तय समय पर जानकारी देता है तो उस समय पश्चिम बंगाल में चुनाव की तारीखों की घोषणा होने वाली होगी और ऐसे समय में रूजीरा के खिलाफ किसी भी तरह के साक्ष्य सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के लिए परेशानी का सबब बनेगा।
उल्लेखनीय है कि भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता शुभेंदु अधिकारी ने रूजीरा के खाते में हुए लेनदेन की एक कॉपी मीडिया में जारी की थी जिसमें उनके खाते में 15 लाख रुपए ट्रांसफर किए गए थे। शुभेंदु ने दावा किया था कि ये रुपये अनूप मांझी के हैं।
------

अभिषेक बनर्जी की चुनौती :

जितना भी सीबीआई लगा लो, हमारा कुछ नहीं बिगडऩेवाला

कोलकाता.
पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता से सटे उत्तर 24 परगना के शरणार्थी मतुआ बहुल क्षेत्र ठाकुरनगर में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की सभा के जवाब में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सांसद भतीजे अभिषेक बनर्जी ने गुरुवार को जनसभा की। इस दौरान पत्नी रूजीरा बनर्जी से कोयला तस्करी के मामले में संदिग्ध संलिप्तता को लेकर सीबीआई पूछताछ पर उन्होंने गुस्सा जाहिर करते हुए चुनौती दी। बनर्जी ने कहा कि चाहे जितना भी सीबीआई कोई लगा ले लेकिन उनका कुछ भी बिगडऩे वाला नहीं है।
मतुआ की सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सीबीआई, ईडी, इनकम टैक्स जो भी लगाना है, लगा दो। आपकी जिद है कि बाहर से बंगाल को दखल करेंगे, तो हमारी जिद है कि बंगाल से बाहरी को विदा देंगे। गला घोंट देंगे, तो भी उससे ‘जय बांग्ला’ निकलेगा।
मालूम हो कि हाल में अभिषेक बनर्जी की पत्नी रूजीरा बनर्जी और उनकी साली मेनका गंभीर से सीबीआई ने कोयला तस्करी के मामले में पूछताछ की है। इसके बाद अभिषेक बनर्जी की यह पहली रैली थी।
उन्होंने कहा कि हम अपना स्वाभिमान नहीं बेचते। हमारा मेरुदंड मजबूत है। क्षमता है, जो करना है, कर दें। जवाब चुनाव के माध्यम से जनता से दे देगी।" अभिषेक बनर्जी ने कहा कि सोनार बांग्ला बांग्लादेश का स्लोगन है। उन्होंने सवाल किया कि ‘सोनार भारत, सोनार गुजरात क्यों नहीं हुआ है? उन्होंने कहा कि बंगाल को झुका नहीं पाएंगे। ममता बनर्जी को झुका नहीं पाएंगे।

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned