scriptCBI in action after expressing displeasure, big action | Action: नाराजगी जताने के बाद हरकत में सीबीआइ, बड़ा एक्शन | Patrika News

Action: नाराजगी जताने के बाद हरकत में सीबीआइ, बड़ा एक्शन

कलकत्ता हाइकोर्ट की ओर से जांच की प्रगति में देरी पर नाराजगी व्यक्त करने के एक दिन बाद केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआइ) के अधिकारी गुरुवार को हरकत में आए। अधिकारियों ने राज्य के सरकारी विद्यालयों की नियुक्तियों में कथित अनियमितताओं की जांच के लिए राज्य के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के कार्यालय पर छापे मारे।

कोलकाता

Published: June 16, 2022 11:50:53 pm

शिक्षक नियुक्ति घोटाला: शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष से पूछताछ
माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कार्यालय में छापे मारे
बोर्ड के एडमिन से दस्तावेज मांगे
कोलकाता. कलकत्ता हाइकोर्ट की ओर से जांच की प्रगति में देरी पर नाराजगी व्यक्त करने के एक दिन बाद केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआइ) के अधिकारी गुरुवार को हरकत में आए। अधिकारियों ने राज्य के सरकारी विद्यालयों की नियुक्तियों में कथित अनियमितताओं की जांच के लिए राज्य के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के कार्यालय पर छापे मारे। पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (डब्ल्यूबीबीएसई) के अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली से पूछताछ की। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) नियुक्ति घोटाले में कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेश पर जांच के संबंध में बार-बार सम्मन के बावजूद पेश होने में विफल रहने के बाद सीबीआइ अधिकारी दोपहर में गांगुली के आवास गए और उन्हें पूछताछ के लिए एजेंसी के शहर कार्यालय ले गए। गांगुली अधिकारियों के सामने पेश होने में विफल रहे। जांचकर्ताओं के पास एसएससी द्वारा भर्ती से संबंधित कुछ विशिष्ट प्रश्न हैं जिनका उन्हें जवाब देना आवश्यक है।
--
कर्मचारियों से सवाल जवाब
जांच एजेंसी की टीम साल्टलेक स्थित बोर्ड के डेराजियो भवन पहुंची। वहां कर्मचारियों से पूछताछ की। बोर्ड के एडमिन से दस्तावेजों की मांग की गई। सीबीआइ सूत्रों के मुताबिक स्कूल नियुक्ति घोटाले की जांच के सिलसिले में जांच टीम बोर्ड कार्यालय गई। वहां कर्मचारियों से पूछताछ कर तलाशी ली गई। कलकत्ता हाइकोर्ट के निर्देश पर सीबीआइ शिक्षकों की नियुक्ति में स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) की कथित अनियमितताओं की जांच कर रही है। इस मामले में राज्य के दो मंत्रियों से भी पूछताछ हो चुकी है।
--
शांतिप्रसाद सिन्हा के घर में तलाशी
सीबीआइ की टीम गुरुवार को एसएससी भर्ती सलाहकार समिति के पूर्व अध्यक्ष रहे शांतिप्रसाद सिन्हा के घर पहुंची। उनकी संपत्ति की तलाशी ली गई। जांच एजेंसी की पांच सदस्यीय टीम ने उनके सर्वे पार्क स्थित आवास की तलाशी ली। सूत्रों के मुताबिक जांच एजेंसी के रडार पर शांतिप्रसाद और उनके रिश्तेदारों की संपत्ति के दस्तावेज हैं। उनके परिजनों से भी पूछताछ की गई है।
--
पहले किया था तलब
इससे पहले सीबीआइ ने एसएससी भ्रष्टाचार मामले में शांति प्रसाद को निजाम पैलेस में तलब किया था। उनसे संपत्ति के दस्तावेज मांगे गए थे। सलाहकार समिति पर एसएससी की नियुक्ति से करोड़ों रुपए के गबन का आरोप लगा है। सीबीआइ सूत्रों के मुताबिक समिति के पूर्व अध्यक्ष और उनके परिवार के सदस्यों के ठिकाने के बारे में दस्तावेज मांगे जा रहे हैं।
--
एसआइटी जांच के आदेश को खंडपीठ में चुनौती
कोलकाता. प्राथमिक शिक्षा पर्षद ने कलकत्ता हाइकोर्ट की एकल पीठ की ओर से प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति के मामले की जांच एसआइटी को सौंपे जाने के आदेश को खंडपीठ में चुनौती है। पर्षद ने एकल पीठ के न्यायाधीश अभिजीत गांगुली के आदेश को न्यायाधीश सुब्रत तालुकदार की खंडपीठ में चुनौती दी है। सोमवार को मामले की सुनवाई होगी।
--
273 अभ्यर्थियों को दिए गए अतिरिक्त नंबर
इससे पहले एकल पीठ में सुनवाई के दौरान पर्षद ने 269 अभ्यर्थियों को अतिरिक्त नंबर दिये जाने की बात कही थी। पीठ ने उन 269 शिक्षकों की नौकरी रद्द कर दी है। गुरुवार को
पर्षद ने अदालत को बताया कि 269 नहीं 273 अभ्यर्थियो को एक एक नंबर अतिरिक्त दिये गये थे।
--
एक प्रश्न आया था गलत
हलफनामे में पर्षद ने कहा है कि वर्ष 2014 की टेट में 18 लाख अभ्यर्थी अनुत्तीर्ण हुए थे। उस वक्त एक प्रश्न गलत आया था। इसलिए उत्तीर्ण अभ्यर्थियो में से 2787 लोगों ने आवेदन कर अतिरिक्त नंबर देने का अनुरोध किया था। इनमें से 273 को एक एक नंबर अतिरिक्त दिये गये थे। अतिरिक्त नंबर पाने वाले सभी लोग प्रशिक्षित थे। पर्षद ने अपने हलफनामे में कहा है कि वर्ष 2014 में टेट अॅाफ लाइन तरीके से हुई थी। इसलिए 18 लाख में से कौन एक नंबर के लिए फेल हुआ इसका पता लगाना संभव न था। पर्षद का कहना है कि नियुक्ति प्रकिया में कोई धांधली नहीं हुई थी।
Action: नाराजगी जताने के बाद हरकत में सीबीआइ, बड़ा एक्शन
Action: नाराजगी जताने के बाद हरकत में सीबीआइ, बड़ा एक्शन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: महा विकास अघाड़ी सरकार को बड़ा झटका, शिंदे खेमे में शामिल होंगे उद्धव के 8वें मंत्रीRanji Trophy Final: मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, 41 बार की चैम्पियन मुंबई को 6 विकेट से हरा जीता पहला खिताबBypoll results 2022 LIVE: UP की दोनों सीटों पर बीजेपी का कब्जा, झारखंड की मांडर सीट पर कांग्रेस को मिली जीतअगरतला उपचुनाव में जीत के बाद कांग्रेस नेताओं पर हमला, राहुल गांधी बोले- BJP के गुड़ों को न्याय के कठघरे में खड़ा करना चाहिएKarnataka: नाले में वाहन गिरने से 9 मजदूरों की दर्दनाक मौत, सीएम ने की 5 लाख मुआवजे की घोषणाSangrur By Election Result 2022: मजह 3 महीने में ही ढह गया भगवंत मान का किला, किन वजहों से मिली हार?सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद, फिर से सामने आया कनाडाई (पंजाबी) गिरोहMumbai News Live Updates: शिवसेना सांसद संजय राउत ने बागी विधायकों को जिंदा लाश बताया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.