डेंगू के लिए केंद्रीय संस्थान दोषी- ममता बनर्जी

Shankar Sharma

Publish: Oct, 13 2017 12:21:22 (IST)

Kolkata, West Bengal, India
डेंगू के लिए केंद्रीय संस्थान दोषी- ममता बनर्जी

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विधाननगर निगम इलाके में डेंगू फैलने के लिए केंद्रीय संस्थान को दोषी ठहराया

कोलकाता. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विधाननगर निगम इलाके में डेंगू फैलने के लिए केंद्रीय संस्थान को दोषी ठहराया। उनके अनुसार साल्टलेक स्थित केंद्रीय सरकार के विभिन्न कार्यालयों में ठीक ढंग से साफ-सफाई नहीं होती।
गंदगी के कारण ही इलाके में डेंगू का प्रकोप बढ़ा है। उन्होंने आरोप लगाया कि साफ-सफाई को लेकर केन्द्रीय संस्थानों के लोग उदासीन हैं।


बुखार से हर मौत डेंगू नहीं
मुख्यमंत्री ने कहा कि बुखार से हर मौत डेंगू नहीं है। अन्य बीमारियों से भी लोग मर रहे हैं। डेंगू और अज्ञात बुखार का मुकाबला करने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह तत्पर है। पश्चिम बंगाल में डेंगू, स्वाइन फ्लू और चिकनगुनिया का प्रकोप गुजरात, महाराष्ट्र तथा उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों के मुकाबले काफी कम है।


उत्तर २४ परगना के देगंगा और हाबरा में डेंगू महामारी का रूप ले रहा है, विपक्ष के इस आरोप को मुख्यमंत्री ने सिरे से खारिज करते हुए कहा कि देगंगा में डेंगू से एक भी मौत नहीं हुई है।


हाल के दिनों में वहां जो मरे हैं वह दूसरी बीमारियों से पीडि़त थे। मुख्यमंत्री ने दोहराया कि राज्य में पिछले ८ महीने में डेंगू से ३० जानें गई हैं, इनमें से छह की पुष्टि नहीं हो पाई है पर इसे बढ़ा चढ़ा कर बताया जा रहा है।

अज्ञात ज्वर से छात्रा की मौत
अज्ञात ज्वर से एक छात्रा की मौत हो गई। वह कक्षा ११वीं की छात्रा थी। उसकी पहचान पुष्पा हाजरा (१६) के रूप में हुई है। यह घटना उत्तर २४ परगना के बनगांव के शक्तिगढ़ इलाके में घटी। पुष्पा के परिजनों का कहना है कि एक निजी पैथोलॉजी सेंटर से रक्त परीक्षण रिपोर्ट गलत दी गई। उसके परिजनों ने बनगांव अस्पताल पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया। शक्तिगढ़ हाईस्कूल की छात्रा पुष्पा छह दिन से ज्वर से पीडि़त थी।

पहले उसे चिकित्सक को दिखाया गया, लेकिन चार दिनों बाद भी उसका ज्वर कम नहीं हुआ तब रक्त जांच कराने के बाद उसे मंगलवार की सुबह बनगांव अस्पताल में भर्ती कराया गया। आरोप है कि अस्पताल में रक्त परीक्षण नहीं किया गया। बुधवार को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। घर जाने के बाद उसकी तबीयत पुन: बिगडऩे लगी। अस्पताल ले जाने पर उसकी मौत हो गई।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned