सीएम ने तृणमूल हिंदी सेल की घोषणा की

सीएम ने तृणमूल हिंदी सेल की घोषणा की

manoj kumar | Publish: Sep, 07 2018 11:31:36 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

राजनीतिक मंच बन गया बिहारी समाज का हिन्दी उत्सव और सम्मान समारोह

अर्जुन सिंह को अध्यक्ष और राजेश सिन्हा को महासचिव बनाया

 

राष्ट्रीय बिहारी समाज की ओर से शुक्रवार को कोलकाता के नेताजी इंडोर स्टेडयम में आयोजित हिन्दी उत्सव और सम्मान समारोह राज्य की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस का राजनीतिक मंच बन गया। समारोह मंच पर पहली कतार में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से ले कर उनके मंत्री और तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व सांसद सुब्रत बक्सी और सांसद बैठे थे और समारोह के आयोजक बिहारी समाज के लोग उनके पीछे बैठे हुए थे। यहां तक कि एक मंत्री के आने पर मुख्यमंत्री के पास बैठे बिहारी समाज के अध्यक्ष को मणिशंकर सिंह को अपने चेयर से उठ कर पीछे जा कर बैठना पड़ा
कोलकाता

राष्ट्रीय बिहारी समाज की ओर से शुक्रवार को कोलकाता के नेताजी इंडोर स्टेडयम में आयोजित हिन्दी उत्सव और सम्मान समारोह राज्य की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस का राजनीतिक मंच बन गया। समारोह मंच पर पहली कतार में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से ले कर उनके मंत्री और तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व सांसद सुब्रत बक्सी और सांसद बैठे थे और समारोह के आयोजक बिहारी समाज के लोग उनके पीछे बैठे हुए थे।

समारोह में आए कोलकाता में रह रहे बिहारी मूल के लोगों को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने तृणमूल कांग्रेस का हिन्दी प्रकोष्ठ बनाने की घोषणा की। राष्ट्रीय बिहारी समाज के महासचिव राजेश सिन्हा ने ममता बनर्जी को संबोधित करते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस का हिन्दी प्रकोष्ठ बना कर उन्हें जिम्मेदारी देती है तो वे घूम-घूम कर हिन्दी भाषियों में पार्टी का प्रचार-प्रचार करेंगे। सिन्हा के प्रस्ताव के तुरन्त बाद ममता बनर्जी ने दोबारा माइक्रोफोन थामा और तृणमूल कांग्रेस का हिन्दी प्रकोष्ठ गठन की घोषणा कर दी। उन्होंने कहा कि वे इस नेक काम में विलम्ब नहीं करना चाहती है। वे तृणमूल कांग्रेस का हिन्दी सेल का गठन किए जाने की घोषणा करती है। भाटपाड़ा के तृणमूल कांग्रेस विधायक अर्जुन सिंह इसके अध्यक्ष और बड़ाबाजार इलाके के तृणमूल नेता राजेश सिन्हा महासचिव होंगे। ममता बनर्जी ने समारोह के मंच से अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों पर खुल कर निशाना साधा। उन्होंने बिहारी खान-पान से खुद के लगाव होने का जिक्र कर उन्होंने बिहारी लोगों को लुभाया और उनसे वोट मांगा

Ad Block is Banned