Political Campaign war: तृणमूल और भाजपा में नहले पर दहला का खेल शुरू

Political Campaign war: तृणमूल और भाजपा में नहले पर दहला का खेल शुरू
Political Campaign war: तृणमूल और भाजपा में नहले पर दहला का खेल शुरू

Manoj Kumar Singh | Updated: 22 Aug 2019, 04:18:23 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

ममता के दीदी के बोलो के जवाब में भाजपा का दादा के बोलो जनसंपर्क अभियान

 

Mamta Banerjee ने दीदी के बोलो जनसंपर्क अभियान शुरु किया तो भाजपा ने इसके जवाब में दादा के बोलो जंसपर्क अभियान शुरू कर दिया
कोलकाता
पिश्चिम बंगाल की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस और भाजपा में नहले पर दहला मारने की राजनीति तेज हो गई है। दोनों राजनीतिक पार्टियां हर मोर्चे पर एक दूसरे को मात देने में जुटी हैं। तृणमूल के दीदी के बोलो के जवाब में भाजपा ने दादा के बोलो जनसंपर्क अभियान शुरू किया है।
लोकसभा चुनाव में भाजपा से जोर का झटका खाने के बाद खुद तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी का जनाधार बढ़ाने का कमान थाम लिया। उन्होंने दीदी के बोलो जनसंपर्क अभियान शुरू किया है।

इसके जवाब में भाजपा ने दादा के बोलो जनसंपर्क अभियान शुरू किया, जिसका कमान प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के हाथ में हैं। उन्होंने गुरुवार सुबह से इसकी विधिवत शुरूआत की। पार्टी कार्यकर्ता और नेता भी इसे ममता बनर्जी के दीदी के बोलो जनसंपर्क का जवाब करार दे रहे हैं।

लेकिन दिलीप घोष इसे नया अभियान नहीं मान रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे हमेशा सुबह जॉगिंग के दौरान लोगों से मिलते है और उनके साथ बैठक कर चाय भी पीते हैं। लेकिन इस बार पार्टी कार्यकर्ताओं ने इसे नाम देने का अग्रह किया। इस लिए इसका नाम दादा के बोलो रखा गया है। इस दिन सुबह वे लोगों के कई समूहों में गए और उनसे चाय पर चर्चा की।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned