पाक पर हमले के सबूत मांगने वालों की हो निंदा -राज्यपाल

कहा, सवाल पूछ कर तोड़ रहे है सेना का मनोबल

 

By: Manoj Singh

Published: 03 Mar 2019, 10:15 PM IST

पाकिस्तान के बालाकोट स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण केन्द्र पर भारतीय वायु सेना के हमले का सबूत मांगने वालों के खिलाफ पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी भी रविवार को मैदान में उतर गए। उन्होंने लोगों से हमले का सबूत मांगने वालों की निंदा करने का आह्वान किया।
कोलकाता

पाकिस्तान के बालाकोट स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण केन्द्र पर भारतीय वायु सेना के हमले का सबूत मांगने वालों के खिलाफ पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी भी रविवार को मैदान में उतर गए। उन्होंने लोगों से हमले का सबूत मांगने वालों की निंदा करने का आह्वान किया। कोलकाता के कलामंदिर में आयोजित एक कार्यक्रम में आए लोगों से उन्होंने कहा कि देश में बहुत से ऐसे लोग हैं, जो हमले का सबूत मांग रहे हैं। वही लोग भारतीय वायु सेना की सफलता को ले कर उलझन में है। उन्हें सेना की कार्रवाई पर विश्वास नहीं हो रहा है। वे पूछ रहे है कि भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान में क्या किया है। वायु सेना ने वास्तव में कहां बम फेंके। कितने आतंकवादी मारे गए। जो लोग सेना पर संदेह कर रहे हैं और सवाल पूछ रहे हैं उनकी निंदा होनी चाहिए। वे ऐसे सवाल कर हमारी सेना का मनोबल तोड़ रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि गुरुवार को ममता बनर्जी ने कहा था कि हवाई हमले की सच्चाई के बारे में उन्हें और समूचे राष्ट्र को जानने का अधिकार है। उन्होंने पूछा था कि बम कहां गिराया गया और उसमें कितने लोग और कौन से लोग मारे गए हैं। राज्यपाल त्रिपाठी ने कहा कि अब आस्तीन के सांप दूध मांगेगे तो हम उन्हें मौत देंगे। राज्यपाल के बयान पर तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और राज्य के शिक्षामंत्री पार्थ चटर्जी से पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि उन्हें राज्यपाल के बयान पर कुछ भी नहीं बोलना है। उन्होंने राज्यपाल के हिसाब से बयान दिया है।

Manoj Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned