बंगाल में लगातार दूसरे दिन कोरोना विस्फोट, सर्वाधिक 652 पीडि़त

पश्चिम बंगाल में महामारी कोविड-19 के संक्रमण का रिकॉर्ड रोज टूटता जा रहा है। मंगलवार को अब तक के सर्वाधिक 652 लोग कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में 15 और लोगों की मौत हुई है जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 668 पहुंच गई है। मरने वालों में कोलकाता के 7,उत्तर 24 परगना-हावड़ा में 2-2,और हुगली, बांकुड़ा, बीरभूम और दार्जिलिंग के 1-1 मरीज शामिल हैं।

By: Rabindra Rai

Published: 30 Jun 2020, 11:25 PM IST

कोविड 19: राज्य में टूटते जा रहे रिकॉर्ड, अब तक 18,559 चपेट में
411 और हुए स्वस्थ, कुल संख्या बढ़कर 12,130 हुई
कोलकाता.
पश्चिम बंगाल में महामारी कोविड-19 के संक्रमण का रिकॉर्ड रोज टूटता जा रहा है। मंगलवार को अब तक के सर्वाधिक 652 लोग कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में 15 और लोगों की मौत हुई है जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 668 पहुंच गई है। मरने वालों में कोलकाता के 7,उत्तर 24 परगना-हावड़ा में 2-2,और हुगली, बांकुड़ा, बीरभूम और दार्जिलिंग के 1-1 मरीज शामिल हैं। स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार 24 घंटे के दौरान संक्रमण के 652 नए मामले सामने आए हैं। इससे पॉजिटिव लोगों की कुल संख्या बढ़कर 18,559 पर पहुंच गई है। राज्य में कोरोना मरीजों के स्वस्थ होने का सिलसिला भी जारी है। इस दौरान 411 लोग स्वस्थ होकर घर लौटे हैं। राज्य में स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 12,130 हो गई है। रिकवरी रेट बढ़ कर 65.35 फीसदी पर पहुंच गई है।
--
एक्टिव केस की संख्या बढ़ी
राज्य में संक्रमण के बढऩे के साथ-साथ एक्टिव केस के मरीजों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। एक दिन में एक्टिव केस के 226 मामले सामने आए हैं। इससे यह संख्या बढकर 5,761 पर पहुंच गई है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने सैम्पल टेस्ट की गति भी बढ़ा दी है। पिछले 24 घंटे में कुल 9,619 लोगों के सैंपल जांच किए गए हैं। अब तक कुल 4,88,038 लोगों के नमूने की जांच हुई है जिनमें से महज 3.80 फ़ीसदी लोग कोरोनावायरस पॉजिटिव पाए गए हैं।
--
रिकवरी रेट 65.35 फीसदी
स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि पिछले एक पखवाड़े से पश्चिम बंगाल में एक्टिव केस के मरीजों की संख्या लगातार घट रही थी। स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़ रही थी। लेकिन पिछले तीन दिनों से यह संख्या और बढ़ रही है। हालांकि रिकवरी रेट 65.35 फ़ीसदी पर पहुंच गई हैं। यह अच्छा संकेत है। कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या बढऩे के बावजूद विशेषज्ञों का दावा है कि रिकवरी रेट में सुधार की वजह से जल्द ही हालात सामान्य हो जाएंगे।

Rabindra Rai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned