बंगाल में बढ़ सकता है कोरोना का संक्रमण : आईसीएमआर----বাংলায় করোনার সংক্রমণ বাড়তে পারে: আইসিএমআর

दी राज्य सरकार को चेतावनी
-पूजा के पहले से थे संक्रमण

By: Krishna Das Parth

Published: 28 Oct 2020, 10:44 PM IST

कोलकाता . देशभर में नवरात्रि के बाद कोरोना के मामले बढ़े हैं। यहां तक कि मृत्यु दर में भी वृद्धि होने से आईसीएमआर चिंतित हैं। दुर्गा पूजा के पहले ही वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम, सर्विस डॉक्टर्स फोरम सहित कई संगठनों ने विशेष सतर्क रहने की सलाह दी थी। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कहा था। दूसरी तरफ कई जगहों पर लोगों की लापरवाही साफ नजर आई। काफी लोग बिना मॉस्क के ही नजर आ रहे हैं, यही वजह है कि कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने कहा है कि पहले की अपेक्षा कोरोना का ग्राफ कम हुआ है, हालांकि खतरा बरकरार है। आईसीएमआर के अनुसार केरल, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, कर्नाटक और दिल्ली में कोरोना के केस बढ़े हैं। इसलिए सभी को सतर्क रहना होगा। आईसीएमआर का कहना है कि बचाव के लिए कोविड-19 के नियमों का पालन अनिवार्य रूप से अब भी करना होगा। राज्यभर में कोरोना की परिस्थितियों को लेकर राज्य के मुख्य सचिव अलापन बंद्योपाध्याय के नेतृत्व में एक रिव्यू बैठक हुई। इस बैठक में गृह सचिव एच के द्विवेदी, वित्त सचिव मनोज पंत, स्वास्थ्य विभाग के सचिव नारायण स्वरूप निगम, एमएसएमई विभाग के सचिव राजेश पांडे सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान पूरी स्थिति पर विस्तार के साथ चर्चा हुई। इसके साथ ही और मास्क तैयार करने की भी आगामी योजनाएं बनी है।
----

कोरोना से एक और पुलिस अधिकारी की मौत

कोलकाता . कोलकाता पुलिस के एक और अधिकारी की कोरोना से मौत हो गई। मृतक का नाम संजय सिंह है। वे कलकत्ता सशस्त्र पुलिस की तीसरी बटालियन में सेवारत थे। इंस्पेक्टर रैंक के अधिकारी को एक सप्ताह पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुधवार को उनका निधन हो गया।
पुलिस सूत्रों के अनुसार मारे गए इंस्पेक्टर के पूरे परिवार की जांच हुई है और उनका भी इलाज चल रहा है।
इस बारे में कोलकाता पुलिस ने फेसबुक पर लिखा, "इंस्पेक्टर संजय सिंह कलकत्ता सशस्त्र पुलिस की तीसरी बटालियन में सेवारत थे। कोरोना-युद्ध लडऩे वाले योद्धाओं में अग्रिम पंक्ति में थे। उन्हें हाल ही में कोविड पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी जान चली गई। हम दिवंगत सहकर्मी के शोक संतप्त परिवार के साथ खड़े हैं, और हमेशा रहेंगे।"
इससे पहले एएसआई सिद्धांतशेखर दे की 18 अक्टूबर को कोरोना से मृत्यु हो गई थी। वे कलकत्ता सशस्त्र पुलिस की 5 वीं बटालियन में सेवारत थे। कोरोना के कारण उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

Krishna Das Parth Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned