बंगाल के कन्टेंमेन्ट जोन में लागू हुआ लॉकडाउन, हरकत में पुलिस प्रशासन

पश्चिम बंगाल में महामारी के विकराल रूप धारण करने के कारण कोलकाता, हावड़ा, उत्तर व दक्षिण 24 परगना सहित राज्य के समस्त कन्टेंमेन्ट जोन वाले इलाके में गुरुवार शाम 5 बजे से लॉकडाउन लागू कर दिया गया।

By: Prabhat Kumar Gupta

Published: 09 Jul 2020, 08:03 PM IST

कोलकाता.
पश्चिम बंगाल में महामारी के विकराल रूप धारण करने के कारण कोलकाता, हावड़ा, उत्तर व दक्षिण 24 परगना सहित राज्य के समस्त कन्टेंमेन्ट जोन वाले इलाके में गुरुवार शाम 5 बजे से लॉकडाउन लागू कर दिया गया। राज्य प्रशासन के कड़े निर्देशों के मद्देनजर पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया। संबंधित इलाकों में हेल्थ प्रोटोकॉल को कड़ाई से लागू करने तथा लोगों के चेहरे पर मास्क लगाने पर विशेष जोर दिया गया है। कोलकाता पुलिस और राज्य पुलिस के शीर्ष अधिकारियों को स्थिति पर पैनी नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

कन्टेंमेन्ट जोन में जगह-जगह पुलिस के बैरिकेड (गार्ड रेल) लगाने तथा इलाके में अनायास भीड़ नहीं लगने को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से कमर कस सड़कों पर उतरा है। सूत्रों ने बताया कि राज्य के गृह विभाग ने समस्त जिला प्रशासन और पुलिस कमिश्नरेटों तथा पुलिस अधीक्षकों को आवश्यक निर्देश भेजे हैं। सूत्रों ने बताया कि लॉकडाउन शुरू होने से पहले सचिवालय नवान्न में गृह सचिव सहित अन्य शीर्ष प्रशासनिक अधिकारी कन्टेंमेन्ट जोन वाले इलाकों के मौजूदा हालात की समीक्षा की। संक्रमण वाले इलाके में पुलिस का बैरिकेड लगाने और तथा पुलिस बल तैनात कर दिए गए। हालांकि गुरुवार सुबह से ही कोलकाता, हावड़ा, उत्तर व दक्षिण 24 परगना सहित अन्य जिलों में लोग सामाजिक दूरी के नियमों को ताक पर रख जमकर खरीदारी की।
मास्क नहीं लगाने पर होगी कार्रवाईः
सरकारी सूत्रों ने बताया कि कन्टेंमेन्ट जोन में जारी लॉकडाउन के दौरान नागरिकों को घरों से निकलने पर नियंत्रित किया गया है। अत्यंत जरूरी होने पर घरों से निकलने की स्थिति में चेहरे पर मास्क लगाना अनिवार्य है। मास्क नहीं लगाने के दोषी व्यक्तियों को पहले वापस घर भेजने की हिदायत दी गई है। नहीं मानने पर कानूनी कार्रवाई की जा सकती है। गृह विभाग के निर्देशानुसार कन्टेंमेन्ट जोन वाले जिलों के अधीन स्थानीय पुलिस प्रशासन ने सरकारी निर्देशों से लोगों को माइक्रोफोन से प्रचार कर अवगत कराया है।
कोलकाता में विशेष सतर्कताः
महानगर कोलकाता के विभिन्न कन्टेंमेन्ट जोन वाले इलाकों में पुलिस की कड़ी निगरानी शुरू हो गई। पुलिस मुख्यालय लालबाजार से शीर्ष पुलिस अधिकारी समस्त थानों के इंचार्जों के साथ टेलीफोन के माध्यम से आवश्यक निर्देश दिए। लॉकडाउन के दौरान पैट्रोलिंग करने के बारे में भी मार्गदर्शन किया गया। सरकारी निर्देशों के अनुसार कन्टेंमेन्ट जोन में दुकान-बाजार निर्धारित समय तक खोले रखने तथा ऑफिस नहीं खोलने के अलावा किसी भी तरह की राजनीतिक गतिविधियां नहीं की जा सकेंगी। आवश्यक सेवा को छूट दी गई थी। परन्तु कोलकाता नगर निगम प्रशासनिक बोर्ड के चेयरमैन फिरहाद हकीम ने गुरुवार को बताया कि कन्टेंमेन्ट जोन में जो मकान अथवा फ्लैट के वासिंदे कोरोना पीड़ित हैं, उक्त परिसर में लॉकडाउन कठोरता से लागू रहेगा। उक्त परिसर के लोग किसी भी हालत में बाहर नहीं निकल सकेंगे।
हावड़ा में लगे पुलिस बैरिकेडः
हावड़ा के विभिन्न सड़कों पर पुलिस का बैरिकेड लगा दिया गया। हालांकि सड़कों पर भीड़ हटाने का पुख्ता बंदोबस्त किया गया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के अनुसार यह लॉकडाउन फिलहाल 7 दिनों का होगा। पुलिस प्रशासन आवश्यक कदम उठाएंगे। सूत्रों ने बताया कि प्रशासनिक स्तर पर परिस्थितियों की समीक्षा करने के बाद नए सिरे से कुछ इलाके लॉकडाउन के दायरे में शामिल भी हो सकते हैं अथवा कुछ इलाकों को लॉकडाउन से बाहर भी रखा जा सकता है।

Prabhat Kumar Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned