COVID-19: शैक्षणिक निर्णय लेने में देरी से परेशान हैं छात्र : राज्यपाल

  • पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने अब राज्य शिक्षा विभाग पर शैक्षणिक निर्णय लेने में देरी करने का आरोप लगाया है और इसे लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का ध्यान आकर्षित किया है...

By: Ashutosh Kumar Singh

Updated: 30 Jun 2020, 12:33 AM IST

कोलकाता

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने अब राज्य शिक्षा विभाग पर शैक्षणिक निर्णय लेने में देरी करने का आरोप लगाया है और इसे लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का ध्यान आकर्षित किया है। राज्यपाल ने सोमवार को एक चिट्ठी मुख्यमंत्री के नाम लिखी है। इसमें उन्होंने राज्य के उच्च शिक्षा विभाग को और अधिक सक्रिय करने की नसीहत दी है। उन्होंने कहा है कि उच्च शिक्षा विभाग, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों और अन्य संस्थानों में परीक्षा या कक्षाएं शुरू करने अथवा अन्य शैक्षणिक निर्णय लेने में काफी देरी कर रहा है। इससे छात्र कंफ्यूजन में हैं। शिक्षा विभाग को और अधिक सक्रिय किया जाना चाहिए। यहां तक कि राज्य के सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ वर्चुअल मीटिंग की राज्यपाल के अनुरोध को भी राज्य शिक्षा विभाग ने खारिज कर दिया है। राजभवन को दिए गए जवाब विभाग ने कहा है कि नियमानुसार विश्वविद्यालय के कुलपतिओं के साथ वर्चुअल मीटिंग के लिए कोई नियम मौजूद नहीं है। इसे लेकर राज्यपाल ने अपनी चिट्ठी में नाराजगी जताई है और कहा है कि संकट के समय में इस तरह का तर्कहिन जवाब अचंभित करने वाला है।

Corona virus COVID-19
Show More
Ashutosh Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned