West Bengal: बेटी ने तीन दिनों से मां के शव को रखा घर में

- दुर्गन्ध आने पर पड़ोसियों ने दी पुलिस को सूचना, शव बरामद किया
- महानगर में फिर रॉबिन्सन स्ट्रीट कांड जैसा मामला

By: Ashutosh Kumar Singh

Published: 27 Jun 2021, 11:31 PM IST

कोलकाता.

महानगर में फिर रॉबिन्सन स्ट्रीट कांड जैसा मामला सामने आया है। टेंगरा थाना क्षेत्र के शील लेन इलाके के एक मकान से पुलिस ने शनिवार रात कृष्णा दास (71) नामक महिला का सड़ा-गला शव बरामद किया। शव के पास उसकी 41 वर्षीय पुत्री सोमा दास लेटी हुई थी। अनुमान लगाया जा रहा है कि 3 दिन पहले कृष्णा दास की मौत हुई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सोमा भी बीमार है। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पता लगाने के प्रयास किया जा रहा है कि मां की मौत के तुरंत बाद उसने सूचना पड़ोसियों और रिश्तेदारों को क्यों नहीं दी।
संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) मुरलीधर शर्मा ने बताया कि शनिवार रात पड़ोस के लोगों ने सोमा के घर से दुर्गन्ध आने की शिकायत की। फिर पुलिस ने उसके घर से उसकी मां का शव बरामद किया। प्राथमिक जांच में पता चला है कि गत 5 जून को मां-बेटी को बीमार हालत में पड़ोसियों ने अस्पताल में भर्ती कराया था। कुछ दिन पहले दोनों अस्पताल से लौट आई थी। घर में मां-बेटी ही रहती थीं। परिवार के बाकी सदस्य अन्य जगह रहते हैं। लोग जब सोमा से उसकी मां के स्वास्थ्य के बारे में पूछते थे तो वह बताती थी कि ठीक है। पड़ोस के लोगों के साथ मेलजोल भी नहीं रखती थी।
--
2015 में रॉबिन्सन स्ट्रीट कांड
उल्लेखनीय है कि वर्ष 2015 में कोलकाता के रॉबिन्सन स्ट्रीट स्थित एक मकान से पुलिस ने देवयानी दे नामक एक महिला तथा दो पालतू कुत्तों के कंकाल बरामद किए थे। देवयानी के भाई पार्थ दे ने करीब 6 महीने तक शव को अपने घर में रखा था। जांच में पता चला था कि पार्थ दे मानसिक रूप से बीमार था।

Ashutosh Kumar Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned