गहराने लगा आर्थिक संकट

सब्जी बेचकर भरण पोषण को मजबूर मनोरंजन पार्क कर्मचारी

By: Rajendra Vyas

Published: 16 May 2020, 10:57 PM IST

हुगली. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश लॉक डाउन के दौर से गुजर रहा है। इन दिनों देशभर में तीसरे चरण का लॉक डाउन चल रहा है, जिसकी वजह से देश की अधिकांश आबादी अपने अपने घरों कैद है । मंदिर, शिक्षण संस्थान, कार्यालय, यातयात के साधन, मॉल, पार्क, थिएटर, सिनेमा हॉल मनोरंजन पार्क सब कुछ बंद है। पार्कों में लोगों का आना जाना बंद ह और वहां वीरानी है छाई हुई है। मनोरंजन पार्क में आय के साधन भी बंद हो गए हैं। ऐसे में इन पार्कों में काम करने वाले सुरक्षाकर्मियों एवं कर्मचारियों पर अब आर्थिक संकट गहराने लगा है। अपने परिवार के भरण पोषण के लिए चन्दनगगर छुटी पार्क के कर्मचारियों ने पार्क के आसपास सब्जी बाजार लागना शुरू कर दिया है ताकि उनका जीविकोपार्जन चलता रहे। सरकार की तरफ से गरीबों के लिए मुफ्त में राशन वितरण की व्यवस्था है लेकिन पार्क में प्राइवेट नौकरी करने वाले इन मध्यमवर्गीय परिवारों के लिए अब तक कोई योजना नहीं बनाई गई है। लॉक डाउन की वजह से आय के साधन बंद हैं ऐसे में इन्हें तय समय पर वेतन भी नहीं मिल पा रहा। पार्क मालिकों ने आय बंद होने से हाथ खड़े कर दिए हैं। मसलन इन्होंने अब सब्जी बेचकर आय का साधन बनाया है ताकि परिवार का पालन हो सके। पार्क कर्मचारी असित घोडि़त ने बताया कि लॉक डाउन के 53 दिन बीत चुके हैं आय का कोई साधन नहीं है। चिंता सता रही है । गुजारा कैसे चलेगा। मेहनताना नहीं मिल रहा तो परिवार पालने के लिए सब्जी बेचना शुरू किया है। सब्जी लेने के लिए भी ग्राहक नहीं पहुंच रहे। चिंता घेरे जा रही है। क्या करें?

Rajendra Vyas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned