अस्पताल में मरीज को डेंगू, मौत, प्रबंधन पर उठा सवाल

अस्पताल में मरीज को डेंगू, मौत, प्रबंधन पर उठा सवाल

Ashutosh Kumar Singh | Publish: Oct, 13 2018 10:38:57 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 10:38:58 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

- परिजनों का आरोप अस्पताल में मच्छर ने काटा था मरीज को
- अस्पताल प्रबंधन को ब्लड बैंक के संक्रमित रक्त से बीमार होने का संदेह

कोलकाता

कोलकाता के निजी अस्पताल 'अामरी' में बोन मैरो ट्रांस्प्लाटेशन के लिए लम्बे समय से मुकुंदपुर इलाका स्थित अस्पताल में भर्ती एक महिला की शुक्रवार को डेंगू से मौत हो गई। महिला पिछले एक महीने से अस्पताल में भर्ती थी। परिजनों का आरोप है कि अस्पताल में उसे डेंगू का मच्छर काटा है। हालांकि अस्पताल प्रबंधन ने आरोप से इनकार किया है। अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि महिला इसोलेशन वार्ड में भर्ती थी। वहां डेंगू का मच्छर नहीं हो सकता। महिला को ब्लड बैंक का रक्त चढ़ाया गया था। संभवत: ब्लड बैंक के संक्रमित रक्त से महिला को डेंगू हुआ था। मृत महिला का नाम मऊ दत्त (43) है। वह उत्तर 24 परगना के सोदपुर के एचबी टाउन की रहने वाली थी। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार मऊ को एमडीएस की बीमारी थी। उसका रक्त संचार धीमा हो गया था। बोन मैरो ट्रांस्प्लाटेशन के लिए 12 सितम्बर को उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 10 अक्टूबर को उन्हें बताया गया कि मऊ को डेंगू हो गया है। उसके दो दिन बाद मौत हो गई। मऊ के पति स्वर्णाकुंर दत्त का कहना है कि उनकी पत्नी आइसोलेशन वार्ड में भर्ती थी। जब अस्पताल में भर्ती कराया था तब उसे डेंगू नहीं था। 12 सितम्बर को भर्ती कराए जाने के बाद से कई बार उसका रक्त परीक्षण किया गया, लेकिन डेंगू संक्रमण नहीं मिला था। १० अक्टूबर को उन्हें मऊ के रक्त जांच की रिपोर्ट दिखाई गई। बताया गया कि उसे डेंगू हो गया। स्वर्णाकुंर दत्त ने मामले की जांच की मांग की है। हालांकि कहीं शिकायत दर्ज नहीं कराई है। उन्होंने बताया कि उन्होंने इस मु²े को अस्पताल के डॉक्टरों के समक्ष उठाया था। डॉक्टरों का कहना है कि ब्लड बैंक के संक्रमित रक्त से मऊ को डेंगू हुआ है।
---

अस्पताल प्रबंधन का दावा

अस्पताल प्रबंधन की ओर से प्रेस विक्षप्ति जारी कर बताया गया कि महिला आईसोलेटेड रूम में भर्ती थी। वहां मच्छर काटने अथवा संक्रमण का सवाल नहीं है। अस्पताल का खुद का ब्लड बैंक नहीं है। मरीजों के लिए शहर के विभिन्न ब्लड बैंक से रक्त मंगवाया जाता है। संभवत: संक्रमित रक्त से मरीज को डेंगू संक्रमण हो गया। जिन-जिन ब्लड बैंकों से मरीजों के लिए रक्त मंगवाया जाता है, उन्हें इस घटना के बारे में सूचित किया गया है। अस्पताल प्रबंधन इस घटना को लेकर गंभीर है।

Ad Block is Banned