डेंगू से फिर एक बच्ची की मौत

डेंगू से फिर एक बच्ची की मौत

डेंगू से फिर एक बच्ची की मौत

हुगली जिले की श्रीरामपुर नगरपालिका के वार्ड नंबर २३ की बच्ची
कोलकाता

राज्य सरकार भले ही डेंगू से मरने वालो की संख्या तथा पीडि़तों की संख्या दबाने का प्रयास करे, लेकिन दिन प्रतिदिन डेंगू से होने वाली मौत ने राज्य सरकार की नींद उड़ा दी है। सोमवार को लेक टाउन के तीन साल की बच्ची के बाद मंगलवार को कोलकाता मेडिकल कालेज अस्पताल में पांच साल की एक बच्ची की डेंगू से मौत हो गई। अस्पताल के चिकित्सकों ने मृत बच्ची का नाम सुनिधि शर्मा बताया है। वह हुगली जिले की श्रीरामपुर नगरपालिका के वार्ड नंबर २३ की रहने वाली थी। घटना के संबंध में पता चला कि सुनिधि शर्मा(५) को तीन-चार दिन से बुखार हो रहा था। उसे पहले स्थानीय एक नर्सिंग होम में भर्ती किया गया था। उसके बाद उसकी हालत में सुधार नहीं होने पर कोलकाता मेडिकल कालेज अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां मंगलवार की सुबह उसकी मौत हो गई। चिकित्सकों ने उसके मृत्यु प्रमाण पत्र में डेंगू का जिक्र किया है। मंगलवार को सुनिधि का शव जब श्रीरामपुर पहुंचा तो वहां लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। अधिकतर लोगों का कहना है कि २३ नंबर वार्ड में नालियों की सफाई समय पर नहीं की जाती है। नाही गंदगी की सफाई समय पर की जाती है। यह वार्ड रिसड़ा नगरपालिका के उस वार्ड से सटा हुआ है। जहां पहले से ही सबसे अधिक डेंगू का प्रकोप है। ऐसे में डेंगू की बीमारी से इलाके में और भी लोग पीडि़त है। ऐसे में इस बीमारी को रोकने में रिसड़ा नगरपालिका पहले से ही विफल हो रही है। इसका प्रभाव श्रीरामपुर नगरपालिका में भी पड़ रहा है। दोनों नगरपालिकाओं को एक जुटता के साथ मिलकर इसको रोकने का प्रयास करना चाहिए।

Nirmal Mishra
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned