चर्चा का विषय बना हरिदेवपुर में प्लास्टिक में भ्रूण नहीं, मेडिकल वज्र्य

चर्चा का विषय बना हरिदेवपुर में प्लास्टिक में भ्रूण नहीं, मेडिकल वज्र्य

Vanita Jharkhandi | Publish: Sep, 03 2018 09:26:51 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

- इस जगह को देखने को लेकर लोगो में कौतूहल बरकरार

- टिन के बैरिकेड से घिरे खाली जमीन से मिला था संदिग्ध पैकेट

कोलकाता . दक्षिण कोलकाता के हरिदवेपुर में टिन के बैरिकेड से घिरे ७२ कट्ठे की खाली जमीन की सफाई के दौरान प्लास्टिक के पैकेट में शव, कंकाल व भ्रूण मिलने की आशंका पर एमआर बांगुर अस्पताल के चिकित्सकों ने बेशक विराम लगा दिया है, लेकिन यह अभी भी लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है। २१४ नम्बर, राजा राम मोहन राय रोड से गुजरने वाले लोग पुलिस व चिकित्सकों के बयान से इतर इस जगह को नवजात शिशुओं केशव मिलने वाली जगह की संज्ञा दे रहे हैं। लोगों में इस जगह को लेकर कौतूहल बरकरार है। स्थानीय निवासी भी कुछ इस तरह की ही बातें कर रहे हैं। लोगों का आरोप है कि यह बेहद गंभीर मामला था, लेकिन इसे एक झटके से दबा दिया गया।

-मेयर के बयान पर लोगों ने उठाई अंगुली

कोलकात नगर निगम के मेयर शोभन चटर्जी ने घटना स्थल का दौरा कर मीडिया को जिस तरह से गैर जिम्मेदाराना बयान दिया था, उससे आमलोगों में भ्रम फैलना लाजमी है। उन्होंने अपने बयान में कहा था कि- यहां पर अभी और शव मिलने की संभावना है। लोगों ने मेयर के गैर जिम्मेदाराना बयान के अलावा कोलकात पुलिस के आयुक्त राजीव कुमार का वरिष्ठ अधिकारियों के साथ घटना स्थल पर पहुंचने के मामले पर भी उंगुली उठाई है। लोगों का आरोप है कि इन लोगों के आने से कौतूहल और ज्यादा बढा गया।
शहीद स्मृति कॉलोनी की रहने वाली कल्पना दास (५१) का कहना है कि मेयर का बयान टीवी पर सुनने के बाद वे अपने पति के साथ टिन बैरिकेड वाली इस जमीन को देखने गई थीं। वह इस इलाके में जन्म से ही हैं। इस जगह को उन्होंने कई बार आते-जाते देखा है। शव मिलने की खबर सुनकर वह चौंक गई थी। इलाके के रहने वाले वरूण घोष का कहना है कि उच्च पदों पर बैठे लोगों को जिम्मेदारीपूर्वक बयान देना चाहिए। क्योंकि उनके बयान पर साधारण लोग जल्द विश्वास कर लेते हैं। मेयर का बयान सामने आने के बाद टीवी चैनलों मे यह खबर और ज्यादा रफ्तार पकड़ ली।

 

Ad Block is Banned