Dowry murder: 13 years in jail for husband: दहेज हत्या: पति को 13 साल की जेल

Dowry murder: 13 years in jail for husband: दहेज हत्या: पति को 13 साल की जेल

Nirmal Mishra | Updated: 11 Jul 2019, 02:35:03 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

Dowry murder: 13 years in jail for husband: दहेज हत्या: पति को 13 साल की जेल

Dowry murder: 13 years in jail for husband: दहेज हत्या: पति को 13 साल की जेल

-

Siliguri Additional District and Sessions Judge's Decision: सिलीगुड़ी अतिरिक्त जिला व सत्र न्यायाधीश का फैसला

siliguri सिलीगुड़ी

Siliguri Additional District and Sessions Judge's Decision: सिलीगुड़ी अतिरिक्त जिला व सत्र न्यायाधीश त्वरित कोर्ट (प्रथम) मौमिता भट्टाचार्य ने मंगलवार को दहेज हत्या मामले में पति, सास, ससुर और देवर को दोषी करार दिया। इसमें दोषी पति को 13 साल और सास ससुर व देवर को 10-10 साल की सजा सुनाई। सजा मिलने के बाद दोषियों के परिजनों ने कहा कि उनके साथ अन्याय हुआ है। इसके खिलाफ हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। कोर्ट लगभग छह वर्षों तक मामला चलने के बाद यह सजा सुनाई गई। सरकारी वकील अमिताभ भट्टाचार्य ने बताया कि यह घटना माटीगाड़ा थाना इलाके की कराईबस्ती की है। व्यापारी ललित मंडल की शादी 28 अप्रैल 2013 को बिहार निवासी आरती राय से हुई थी। शादी के पांच माह के अंदर ही उसे दहेज के लिए तरह-तरह से प्रताडि़त किया गया और 4 सितंबर को उसे जलाकर मार डालने का आरोप इन चारों पर लगा था। जबकि ससुराल का कहना है कि आरती ने खुद ही आत्महत्या की थी। मृत आरती के पिता अनिल राय ने इस संबंध में माटीगाड़ा थाने में दामाद और ससुराल वालों के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ और निर्मम हत्या का आरोप लगाते हुए लिखित तौर पर मामला दर्ज कराया था। पुलिस से इंसाफ की मांग की थी। उसके बाद ही पुलिस की टीम सक्रिय हुई और पूरे मामले की जांच कर इन चारों के खिलाफ कोर्ट में आरोप पत्र जमा किया और गवाही के बाद ही कोर्ट ने इन चारों को दोषी पाया और सजा सुनाई।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned