लगातार बारिश ने दुर्गापुर में मचाई तबाही

दुर्गापुर में बीते 24 घंटों के दौरान हुई झमाझम बारिश से निचले इलाको ंमें पानी भर गया है। कच्चे घरों को नुकसान पहुंचा है। लोग परेशान हैं। प्रशासन राहत व बचाव कार्य में लगा हुआ है।

By: Paritosh Dube

Published: 18 Sep 2020, 11:28 PM IST


दुर्गापुर
दुर्गापुर व आसपास के इलाके में वज्रपात व घण्टों मूसलाधार बारिश ने इलाके में जमकर तबाही मचाई। जल जमाव से निकासी व्यवस्था ठप हो गई। निचले इलाकों में पानी घुस आया। घरों में घुटने से ऊपर पानी जमने के कारण लोग परेशान हो गए। पानी के तेज प्रवाह से दर्जनों कच्चे घर ध्वंस हो गए । सैकड़ों लोग घरों में फंस गए।
वार्ड संख्या 13 के मेन गेट, रीवर साइड , 34 नंबर वार्ड के कादा रोड , सीमेंट कॉलोनी के अलावा 20 नंबर वार्ड के चासी पाड़ा, 54 फुट सहित कई इलाकों के घरों में पानी घुस जाने के कारण कई लोग बेघर हो गए। ऐसी ही स्थिति दामोदर नदी से सटे इलाकों में देखने को मिली।
गुरुवार की रात भर हुई बारिश को देख शुक्रवार की सुबह महकमा प्रशासन व निगम प्रशासन राहत कार्य के लिए मैदान में उतरा। प्रशासन के साथ- साथ स्वयंसेवी संस्थाओं भी राहत कार्य में उतर पड़ीं। घरों में फंसे लोगों को निकालने के लिए आपदा प्रबंधन की टीम घटनास्थल पर पहुंची। राहत कार्य का नेतृत्व महकमा शासक अनिर्बान कोले ने किया। स्थानीय जनप्रतिनिधि भी अपने अपने क्षेत्रों में राहत अभियान में जुटे रहे। महकमा शासक अनिर्बान कोले ने बताया कि बारिश और जल जमाव में फंसे लोगों को राहत देने के लिए हर संभव प्रयास जारी है। नाव की सहायता से राहत अभियान चलाया जा रहा है। बेघर हुए लोगों को आर्थिक सहयोग देने का प्रयास किया जाएगा।
-------------------
मूसलाधार बारिश से ढही दीवार, किशोरी की मौत
अंडाल के खांद्रा गांव के बख्शी पाडा में मूसलाधार बारिश के सोमनाथ मजुमदार के घर की दीवार गिर गई। मलबे की चपेट में आकर उनकी पुत्री सौमी मजुमदार (14) की मौत हो गई। घटना के बाद बाग्दी पाडा में सनसनी फैल गई। सोमनाथ मजुमदार ने बताया की रात लगभग 2 बजे हादसा हुआ। जिसमें वे और उनकी पत् नी घायल हुए हैं। पुत्री की मौत हो गई। खुशनुमा

Paritosh Dube Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned