विमान से निकला धुआं, आपात लैंडिंग,20 घायल

Shankar Sharma

Publish: Sep, 10 2017 05:15:00 (IST)

Kolkata, West Bengal, India
विमान से निकला धुआं, आपात लैंडिंग,20 घायल

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस हवाईअड्डे पर शनिवार दोपहर एक बड़ा हादसा टल गया

कोलकाता. नेताजी सुभाष चन्द्र बोस हवाईअड्डे पर शनिवार दोपहर एक बड़ा हादसा टल गया। अचानक धुआं निकलने पर पारो जा रही भूटान एयरलाइंस ड्रूकएयर को एयरपोर्ट पर आपात लैंडिंग कराया गया। अफरा-तफरी में विमान से निकलते वक्त 20 यात्री घायल हो गए।


विमान में सात क्रू सदस्य सहित 68 यात्री सवार थे। शनिवार करीब ११.४५ बजे एयरपोर्ट के एटीसी से सम्पर्क कर विमान ने आपात लैंडिंग की अनुमति मांगी। एटीसी ने विमान को हैंगर में ले जाने को कहा। औंचक निरीक्षण के लिए मौजूद इंडियन कोस्ट गार्ड (आईसीजी) के कमांडेंट के आर अरुण व डिप्टी कमाडेंट पंकज मिश्रा ने धुआं निकलते देख अधिकारियों को सूचित किया।

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अधिकारी मौके पर पहुंचे और राहत कार्य में जुट गए। विमान से निकलते वक्त 20 यात्री घायल हो गए। सभी यात्रियों को एप्रोन एरिया में ले जाया गया। एयरपोर्ट के निदेशक अतुल दीक्षित ने बताया कि विमान की आक्सीलरी पावर यूनिट में शार्ट सर्किट के कारण धुआं निकला। अब तक एयरलाइंस की ओर से कोई टिप्पणी नहीं मिली है।


मायापुर इस्कॉन मंदिर परिसर में होगी धान की खेती
पश्चिम बंगाल सरकार के सहयोग से मायापुर स्थित इस्कॉन मंदिर परिसर में धान की खेती होने जा रही है। राज्य सरकार इसके लिए मंदिर प्रबंधन को ५१ प्रजाति के धान का बीज उपलब्ध कराएगी।

विदेशी संन्यासियों की रुचि को ध्यान में रखते हुए ऐसा किया जा रहा है। मंदिर प्रबंधन के शीर्ष पदाधिकारियों ने इसे लेकर हाल ही में कृषि विभाग से सहयोग की अपील की थी। कृषि विभाग के सूत्रों ने बताया कि इस्कॉन प्रबंधन को राज्य सरकार फिलहाल दादशाल, राधा तिलक, गोविन्दभोग और केरलसुन्दरी समेत ५१ विभिन्न प्रजाति के धान का बीज उपलब्ध कराएगी।  धान की इन प्रजातियों में अधिकांश सुगंधित चावल हैं। जिसे इस्कॉन में आने वाले विदेशी भक्तों को परोसा जा सके। उल्लेखनीय है कि मायापुर में इस्कॉन मंदिर के अधीन करीब १०० एकड़ कृषि जमीन है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned