निगम में अब नहीं भटकेंगी फाइलें, फाइल ट्रैकिंग सिस्टम चालू

निगम में अब नहीं भटकेंगी फाइलें, फाइल ट्रैकिंग सिस्टम चालू
निगम में अब नहीं भटकेंगी फाइलें, फाइल ट्रैकिंग सिस्टम चालू

Jyoti Dubey | Updated: 31 Aug 2019, 03:30:17 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

- कोलकाता नगर निगम की ओर से शहरवासियों के सभी परेशानियों व निगम से जुड़े सभी कार्यों को सही समय पर पूरा करने के लिए फाइल ट्रैकिंग सिस्टम चालू किया जा रहा है। कोलकाता के मेयर फिरहाद हकीम ने इसकी जानकारी दी।

कोलकाता. कोलकाता नगर निगम मुख्यालय से लेकर महानगर के सभी बोरो दफ्तरों में अब निगम की फाइलों पर मिट्टी की परतें नहीं जमेंगी, ना ही दर-बदर भटकेंगी या इनके गुम होने की शिकायतें आएंगी। क्योंकि अब निगम से जुड़ी सभी फाइलों का ब्योरा केवल एक क्लिक में मेयर से लेकर निगम के विभिन्न विभाग के अधिकरियों को अपनी कुर्सी पर बैठे-बैठे मिल जाएगा। इसकी वजह निगम में चालू हुआ फाइल ट्रैकिंग सिस्टम है।

दरअसल, कोलकाता नगर निगम की ओर से शहरवासियों के सभी परेशानियों व निगम से जुड़े सभी कार्यों को सही समय पर पूरा करने के लिए फाइल ट्रैकिंग सिस्टम चालू किया गया है। बुधवार को निगम मुख्यालय में मेयर फिरहाद हकीम ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अक्सर फाइलों को गुम होने की शिकायतें या सही स्थान पर देरी से पहुंचने की वजह से निगम के कार्य प्रभावित होती है। इसे सही से संचालित करने के लिए कोलकाता नगर निगम ने फाइल ट्रैकिंग सिस्टम चालू करने का प्रस्ताव लाया था।

एमएमआईसी बैठक में यह प्रस्ताव पास हो गया है। इसके पास होते ही सभी विभाग के अधिकारियों को उनके फाइलों को नम्बरिंग करने का निर्देश दिया गया है। फाइलों के नम्बर सिस्टम में आते ही इसे ट्रैक कर पाना संभव होगा। फाइलों को केवल निगम मुख्यालय में मेयर, उपमेयर एमआईसी ही नहीं बल्कि विभागीय अधिकारी भी ट्रैक कर सकेंगे। इसके अलावा बोरो दफ्तरों में भी यह सूविधा उपलब्ध रहेगी।

- ई-पेमेंट में कोई सरचार्ज नहीं :

गत बुधवार को केएमसी टॉक-टी मेयर कार्यक्रम में एक शिकायकर्ता ने मेयर को कर भुगतान में सर्विस चार्ज लेने संबंधित शिकायत की थी। जिससे मेयर स्वयं अनभिज्ञ थे। 2 हजार से अधिक के ई-पेमेंट पर सर.चार्ज लगने की बात से अवगत होते ही उन्होंने इसका भार केएमसी के ऊपर ले लिया था।

गत बुधवार को इसकी घोषणा के बाद इस बुधवार को मेयर के इस फैसले को सभी मेयर परिषद के सदस्यों ने स्वीकृति दे दी है। अब से केवल कर भुगतान नहीं बल्कि निगम से जुड़े किसी भी तरह के ई पेमेंट पर शहरवासियों को कई सरचार्ज नहीं देना होगा। मेयर फिरहाद हकीम ने इसकी जानकारी दी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned