First time : कोलकाता में खुला पहला चलता-फिरता पुस्तकालय

पैलेस ऑन ह्वील की तर्ज पर कोलकाता में जल्द ही लाइब्रेरी ऑन ह्वील यानि चलता-फिरता पुस्तकालय खोला गया है। पढऩे के शौकिन और पाठकों इस पुस्तकालय में यात्रा करते हुए पुस्तक पढ़ सकते हैं।

By: Manoj Singh

Published: 24 Sep 2020, 04:01 PM IST

अपने तरह के विश्व का एकलौते ट्राम पुस्तकालय का आज हुआ उद्घाटन
कोलकाता
पैलेस ऑन ह्वील की तर्ज पर कोलकाता में जल्द ही लाइब्रेरी ऑन ह्वील यानि चलता-फिरता पुस्तकालय खोला गया है। पढऩे के शौकिन और पाठकों इस पुस्तकालय में यात्रा करते हुए पुस्तक पढ़ सकते हैं। पश्चिम बंगाल सरकार ने ट्राम पुस्तकालय खोलने का फैसला किया है, जो वर्ष 1903 से कोलकाता में शुरू हुए ट्रामवे के ट्राम में शुरू किया गया और यह वाईफाई की सुविधाय से भी लैस है। यह संभवत: विश्व में अपने तरह का एकलौता पुस्ताकालय है। गुरुवार को इसका उद्घाटन किया गाया।
पश्चिम बंगाल परिवहन निगम (ड्ब्ल्यूबीटीसी) के प्रबंध निदेशक राजनवीर सिंह कपूर ने बताया कि विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के पाठकों को आकर्षित करने के लिए विशेष रूप से तैयार इस ट्रम पुस्तकालय में सिविल सेवा, डब्ल्यूबीसीएस, जीआरई या जीएमएटी सहित प्रतियोगी परीक्षाओं की किताबें, पत्र-पत्रिकाएं उपलब्ध है। इसे विभिन्न शिक्षण संस्थान वाले रुट में चलाया जाएगा।
कपूर ने बताया कि इस चलते-फिरते पुस्तकालय का उद्घाटन गुरुवार को किया जाएगा और यह महानगर के शिक्षा बह कॉलेज स्ट्रीट से होते हुए धर्मतल्ला से श्यामबाजार के बीच 4.5 किलो मीटर के बीच में लागातार चलेगा। इसके रास्ते में कलकत्ता विश्वविद्यालय और प्रेसीडेंसी विश्वविद्यालय, स्कॉटिश चर्च कॉलेज, हिंदू स्कूल, हेयर स्कूल और कलकत्ता गर्ल्स स्कूल सहित कम से कम 30 शैक्षणिक संस्थान हैं।
कपूर ने कहा कि भारत में एक मात्र चल रहे ट्रामवे इस ट्राम पुस्तकालय की शुरूआत किया है। इसमें यात्री यात्रा करने के साथ पुस्तक और पत्रिकाएं पढ़ा जा सकता है। इस में यात्रा करने वाले लोग के लिए मुफ्त में वाईफाई की व्यवस्था की गई है, जिससे वे ई-पुस्तकें पढ़ सके। पुस्तकालय में पुस्तकों का संग्रह नियमित रूप से अपडेट किया जाएगा।
ट्रम पस्तक में खुलेगा साहित्य सम्मेलन कक्ष
पश्चिम बंगाल परिवहन निगम के एक अधिकारी ने बताया कि हम भविष्य में इस ट्राम लाइब्रेरी में किताब पढऩे का सेशन के अलावा बुक लॉन्च और साहित्यिक समारोहों करने की योजना बनाई जा रही है। इसके लिए ट्राम के भीतर सभागार बनया जाएगा।

Manoj Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned