गंगासागर: अबतक 4 लाख ने किया पुण्य स्नान

गंगासागर: अबतक 4 लाख ने किया पुण्य स्नान

Prabhat Kumar Gupta | Publish: Jan, 13 2018 08:18:39 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

मकर संक्रांति पर पुण्य पाने तथा गंगासागर में पवित्र डुबकी लगाने के लिए श्रद्धालुओं का जत्था सागर तट की ओर बढ़ता जा रहा है।

गंगासागर: अबतक 4 लाख ने किया पुण्य स्नान

- आज व कल भी श्रद्धालु लगाएंगे पवित्र डुबकी
- सागर तट पर बढ़ रहा श्रद्धालुओं का सैलाब

सागरद्वीप. मकर संक्रांति पर पुण्य पाने तथा गंगासागर में पवित्र डुबकी लगाने के लिए श्रद्धालुओं का जत्था सागर तट की ओर बढ़ता जा रहा है। नेपाल, भूटान व बांग्लादेश के अलावा देश के दूसरे राज्यों के करीब 4 लाख श्रद्धालुओं ने शनिवार तक सागर में स्नान कर कपिलमुनि मंदिर में भगवान के दर्शन किए। अयोध्या हनुमानगढ़ी अखाड़े के सचिव तथा कपिलमुनि मंदिर के प्रमुख पुजारी महंत ज्ञानदास के उत्तराधिकारी महंत संजय दास ने बताया कि श्रद्धालु रविवार और सोमवार को भी पुण्य स्नान करेंगे। वैसे पुण्य स्नान सोमवार सुबह 6 से 12 बजे तक के 8 घंटे पहले और 16 घंटे बाद तक का समय मकर स्नान के लिए शुभ माना जाता है। मोक्ष पाने के लिए सागर स्नान और कपिलमुनि से आशीर्वाद पाने के लिए मंदिर के सामने श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
मेला क्षेत्र में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए दक्षिण 24 परगना जिला प्रशासन के शीर्ष अधिकारी मुस्तैद हैं। सागर तट पर बढ़ती भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए हैं। पर्याप्त संख्या में तट रक्षक दस्ता तैनात है। मुख्यमंत्री सचिवालय विशेष कंट्रोल रूम के जरिए मेले की व्यवस्था तथा श्रद्धालुओं के आवागमन पर नजर रख रहा है।

20 लाख के पहुंचने की संभावना

मेले में उपस्थित राज्य के पंचायत व ग्रामीण विकास मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने शनिवार शाम पत्रकारों को बताया कि अगले 48 घंटे के बीच करीब 20 लाख श्रद्धालुओं के डुबकी लगाने का अनुमान है। इधर, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गंगासागर के पुण्यार्थियों को मकर संक्रांति की बधाई दी है। सोशल नेटवर्क ट्वीटर पर मुख्यमंत्री ने पुण्यार्थियों की सफल गंगासागर यात्रा की कामना की है।

शंकराचार्य आज करेंगे पुण्य स्नान-
पुरी के गोवद्र्धन पीठ के शंकराचार्य निश्चलानन्द सरस्वती भी गंगासागर मेले में पधार चुके हैं। प्राप्त सूचना के अनुसार शंकराचार्य रविवार सुबह पुण्य स्नान करेंगे। उनके साथ साधूओं व संन्यासियों का जत्था भी सागर में डुबकी लगाएगा। मकर संक्रांति के अवसर पर शंकराचार्य शाम को गंगा आरती करेंगे।

Ad Block is Banned