बन्दूक का फर्जी लाइसेंस बनाने के आरोप में सरकारी कर्मचारी गिरफ्तार

इस मामले में कलक्टर कार्यालय के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया गया है

By: Vanita Jharkhandi

Published: 10 Mar 2019, 04:59 PM IST

 

बसीरहाट . उत्तर 24 परगना के बसीरहाट में बंदूक का फर्जी लाइसेंस बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश जिला पुलिस ने किया। इस मामले में कलक्टर कार्यालय के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार गुरुवार की सुबह 8 बजे के करीब बसीरहाट स्टेशन से शुभेन्दु मण्डल को गिरफ्तार किया गया है। वह बसीरहाट के गणपतिपुर का रहने वाला है। हाल ही में उसे कलक्टर कार्यालय के अस्त्र विभाग से हटाकर परिवहन विभाग में भेजा गया था।

बारासात के अतिरिक्त जिला शासक (साधारण) की ओर से दर्ज शिकायत के आधार पर शुभेन्दु को गिरफ्तार किया गया है। शुभेन्दु पर आरोप है कि पैसे लेकर बन्दूक का फर्जी लाइसेंस बनाने में अहम भूमिका निभाता है। वह बसीरहाट सीमाई क्षेत्रों तथा जिलों में संचालित गिरोह का सदस्य है। शुभेन्दु का नाम सामने आते ही उसका तबादला अस्त्र विभाग से परिवहन विभाग में कर दिया गया था। वहीं मामले की जांच के दौरान यूसुफ मोल्ला को गिरफ्तार किया गया, उसके बाद चंचल मण्डल को भी गिरफ्तार किया गया। दोनों से पूछताछ करने पर पांच लोगों के नाम सामने आए, जिसमें मुख्य भूमिका में शुभेन्दु का नाम सामने आया। बताया जाता है कि ढाई लाख रुपए लेकर फर्जी लाइसेंस बनाने का कारोबार चल रहा था। दूसरी ओर शुभेन्दु ने आरोप को गलत बताया है। उसका कहना है कि वह गिरोह में शामिल नहीं है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Vanita Jharkhandi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned