political movements:कभी उल्टी गंगा तो कभी बड़ा उलटफेर का दावा

political movements:कभी उल्टी गंगा तो कभी बड़ा उलटफेर का दावा

Rabindra Rai | Updated: 18 Jul 2019, 02:59:57 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

उधर Drama in Karnataka खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है तो इधर पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव बाद Bjp और Trinamool Congress में Political rivalry sharp होती नजर आ रही है।

कोलकाता
उधर कर्नाटक में नाटक खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है तो इधर पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव बाद भाजपा और तृणमूल कांग्रेस में राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता तेज होती नजर आ रही है। भाजपा नेता मुकुल राय ने राज्य में जल्द बड़ा उलटफेर होने का दावा किया है तो तृणमूल कांग्रेस के बड़े नेता सांसद अभिषेक बनर्जी ने उल्टी गंगा बहाने की कवायद शुरू कर दी है। मुकुल का कहना है कि जल्द ही बंगाल के १०७ विधायक भाजपा में शामिल हो जाएंगे तो अभिषेक ने कांचरापाड़ा, हालीशहर और भाटपाड़ा नगरपालिका पर फिर से कब्जा करके अपने इरादे जता दिए हैं। तीनों नगरपालिकों के एक दर्जन से ज्यादा तृणमूल पार्षद भाजपा में शामिल हो गए थे। अब लगभग सभी ने घर वापसी कर ली है। भाजपा का दावा है कि डरा-धमका कर इनको घर वापसी कराया गया है। ये पार्षद फिर भाजपा के पाले में आएंगे। यह तो समय ही बताएगा कि कौन अपने मकसद में सफल होगा। लेकिन जिस तरह से राज्य में राजनीति चल रही है। उससे पूरे देश की निगाहें राज्य की राजनीति पर टिक गई है।
भाजपा पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस को शीघ्र ही जबरदस्त झटका देने की तैयारी में जुटी नजर आ रही है। भाजपा नेता मुकुल राय ने 107 विधायकों के भाजपा में जल्द शामिल होने का दावा किया है। मुकुल राय का कहना है कि बंगाल में कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और माकपा के 107 विधायक भाजपा में शामिल होंगे। भाजपा में शामिल होने के लिए तैयार उक्त तीनों पार्टियों के विधायकों की सूची तैयार है। वे सभी उनके संपर्क में हैं। लोकसभा चुनाव से पहले और बाद में मुकुल राय ने तृणमूल कांग्रेस के 25 और बैरकपुर से पार्टी सांसद अर्जुन सिंह ने भाजपा में शामिल होने के लिए तृणमूल कांग्रेस के 40 विधायकों के तैयार होने का दावा किया था। चुनाव से पहले और बाद में तृणमूल कांग्रेस और दूसरे दलों के एक दर्जन विधायक, 60 से अधिक पार्षद और ग्राम पंचायत व जिला परिषद के सदस्य भाजपा में शामिल हुए हैं। तृणमूल कांग्रेस से आए पार्षद घर वापसी भी कर चुके हैं।
दूसरी तरफ भाजपा नेता मुकुल राय पर वार करते हुए तृणमूल युवा कांग्रेस के अध्यक्ष अभिषेक बनर्जी ने बीजपुर से उनके विधायक पुत्र शुभ्रांशु राय के फिर से तृणमूल कांग्रेस में लौटने का दावा किया। उन्होंने कहा कि मुकुल राय अपना मुहल्ला ही नहीं संभाल रहे हैं और कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और माकपा के 107 विधायक भाजपा में शामिल होने की बात कर रहे हैं। वे हवा में बात करते रहते हैं। अभी कांचरापाड़ा के 9 पार्षदों ने घर वापसी की है। जल्द ही शुभ्रांशु राय भी तृणमूल कांग्रेस में लौटेंगे। उल्लेखनीय है कि मुकुल राय के पुत्र शुभ्रांशु राय बीजपुर से तृणमूल कांग्रेस के विधायक थे, लेकिन पिछले दिनों उन पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने का आरोप लगाते हुए उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया था। उसके बाद वे भाजपा में शामिल हो गए।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned