कोलकाता. सेक्यूरेक्स प्रोजेक्ट पर इंडिया पोस्ट की चार दिवसीय कार्यशाला कोलकाता में समाप्त हुई। एएन नन्दा सचिव, भारत सरकार, डाक विभाग, संचार मंत्रालय कार्यशाला के वेलेडिकटरी सत्र में उपस्थित थे। इंडिया पोस्ट के वरिष्ठ अधिकारी और भारत सरकार के सीमा शुल्क विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी इस मौके पर उपस्थित थे। सुरक्षा और सीमा शुल्क से संबंधित कार्यशाला इलेक्ट्रॉनिक डेटा एक्सचेंज का उद्देश्य विदेशी डाक और सीमा शुल्क विभाग के कर्मचारियों को शिक्षित और संवेदनशील बनाना था। इससे पोस्टल चैनल के माध्यम से आयात / निर्यात की जाने वाली वस्तुओं की सीमा शुल्क की तेजी से निकासी की सुविधा होगी। कोलकाता, दक्षिण एशियाई उप-महाद्वीप में विनिमय का सबसे पुराना कार्यालय, जहां अंतरराष्ट्रीय मेलों का प्रसंस्करण पहले शुरू हुआ था, अभी भी चीन और अन्य पूर्वी एशियाई देशों से वायु और सड़क मेलों के लिए मुख्य प्रवेश बिंदु के रूप में कार्य करता है। कार्यशाला का आयोजन यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन (यूपीयू) और विश्व सीमा शुल्क संगठन (डब्ल्यूसीओ) के साथ संयुक्त रूप से किया गया था। कार्यशाला में देश भर के प्रतिभागियों ने भाग लिया था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned