scriptInflation increased due to GST broke the back of common man | west bengal : जीएसटी से बढ़ी महंगाई ने तोड़ी आम आदमी की कमर | Patrika News

west bengal : जीएसटी से बढ़ी महंगाई ने तोड़ी आम आदमी की कमर

पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस के दाम बार बार बढ़ने से आम लोग पहले ही महंगाई की मार झेल रहे है। अब खाद्य उत्पादों पर जीएसटी लगने से आम आदमी की कमर टूट गई है।

कोलकाता

Updated: July 20, 2022 07:09:48 pm

पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस के दाम बार बार बढ़ने से आम लोग पहले ही महंगाई की मार झेल रहे है। अब खाद्य उत्पादों पर जीएसटी लगने से आम आदमी की कमर टूट गई है। जबकि सावन मास भोले की आराधना का समय है। ऐसे में जीएसटी से सभी खाद्य उत्पाद महंगे हो गए हैं। केंद्र के इस निणर्य की कोलकाता के प्रवासी राजस्थानी व्यापारी वर्ग से लेकर आम नागरिकों ने तीखी आलोचना की है। उनका कहना है कि जीएसटी दरें बढ़ाकर केन्द्र ने न केवल महंगाई को पंख लगा दिए बल्कि मध्यम वर्ग के मुंह से निवाला खींचने की कोशिश की है। जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद आम आदमी को फिर महंगाई का तगड़ा झटका लगा है।
west bengal : जीएसटी से बढ़ी महंगाई ने तोड़ी आम आदमी की  कमर
पैक्ड फूड आइटम
खाद्य उत्पादों पर जीएसटी

पोस्ता व्यवसायी संगठन के पदाधिकारी अनिल सिंह पटेल ने कहा कि सरकार ने खाने के लगभग सभी उत्पादों पर जीएसटी लगा दिया है। इसके कारण आटा से लेकर दाल और गुड़ तक महंगा हो गया है। सोमवार से नए प्रावधान लागू होने के बाद कई उत्पादों की कीमतों में तेजी दर्ज हो गई जो 5 प्रतिशत से भी ज्यादा है। नए प्रावधानों के तहत 25 किलो से ज्यादा के प्री पैक्ड खाद्यान्न पर जीएसटी नहीं लगाया गया है। इसके साथ ही खुदरा विक्रेताओं की ओर से पैक्ड फूड आइटम पर जीएसटी नहीं लगेगा। पैकेट पैक्ड आटा, दूध, दही लस्सी में जीएसटी लागू होने से आम आदमी पर खर्च का बोझ और बढ़ गया है।
व्यापारी, आमजन ने बयां की पीड़ा

जीएसटी लागू होने से आम जनता के साथ दुकानदार भी परेशान हैं। कपड़ा व्यवसायी दीपू तिवारी ने बताया कि हाल ही घरेलू गैस सिलेंडर के दाम में बढ़ोतरी हुई और अब इन चीजों पर जीएसटी शुरू हो गया। उन्होंने कहा कि महंगाई के इस दौर में आम उपभोक्ता की जेब पर और बोझ सरकार ने डाल दिया है। गिफ्ट आइटम के व्यवसायी बड़ाबाजार निवासी राजस्थान प्रवासी हंसमुख श्रीमाली ने बताया कि कुछ समय पहले पैकेट पैक दूध के दाम बढ़े थे। अब जीएसटी लगने से एक बार फिर दाम बढ़ेंगे। इससे मध्यम वर्गीय परिवार पर सबसे ज्यादा असर होगा।
मूल्य वृद्धि बेलगाम

उधर, गृहिणी दुर्गा व्यास ने बताया कि आय स्थिर है लेकिन सामान के दाम बेलगाम होने से व्यय अस्थिर हो गया है। खर्च के अनुपात में आमदनी नहीं बढ़ रही। इसी तरह निजी प्रतिष्ठान में काम करने वाले वरुण कुमार ने कहा कि घर चलाना पहले ही मुश्किल हो रहा था और अब रही सही कसर भी पूरी हो गई। बड़ाबाजार में सूटिंग शर्टिंग के दुकानदार विष्णु शर्मा ने बताया कि महंगाई से आम जनता त्रस्त है, इस पर काबू पाने के लिए हरसंभव कोशिश करनी चाहिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Maharashtra: महाराष्ट्र में स्टील कारोबारी पर इनकम टैक्स का छापा, करोड़ों रुपये कैश सहित बेनामी संपत्ति जब्तJammu-Kashmir: उरी जैसे हमले की बड़ी साजिश हुई फेल, Pargal आर्मी कैंप में घुस रहे 3 आतंकी ढेरजगदीप धनखड़ आज लेंगे 14वें उपराष्ट्रपति पद की शपथ, दोपहर 12:30 बजे राष्ट्रपति भवन में होगा समारोहकाले कारनामों को छिपाने के लिए 'काला जादू' जैसे अंधविश्वासी शब्दों का इस्तेमाल करें बंद, राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशानाMaharashtra: महाराष्ट्र में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद अब विभाग बंटवारे का इंतजार, गृह और वित्त मंत्रालय पर मंथन जारीमुख्यमंत्री अशोक गहलोत आज फिर दिल्ली पहुंचे ,उपराष्ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह में होंगे शामिलचुनाव में मुफ्त की योजनाओं पर सुप्रीम कोर्ट में आज होगी सुनवाईRaksha Bandhan 2022: भाइयों के खुशहाल जीवन और समृद्धि के लिए उनकी राशि अनुसार बांधें इस रंग की राखी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.