जादवपुर : टीएमसीवालों से धमकी मिली तो रोने-बिलखने लगी भाजपा एजेंट, अनदेखी कर दिए केंद्रीय बल के जवान,

जादवपुर : टीएमसीवालों से धमकी मिली तो रोने-बिलखने लगी भाजपा एजेंट, अनदेखी कर दिए केंद्रीय बल के जवान,

Krishna Das Parth | Publish: May, 19 2019 05:35:50 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

जादवपुर : टीएमसीवालों से धमकी मिली तो रोने-बिलखने लगी भाजपा एजेंट, अनदेखी कर दिए केंद्रीय बल के जवान,
--उम्मीदवार अनुमप हाजरा को भी डराया-धमकाया गया

कोलकाता.
जादवपुर के गांगुलीबागान इलाके में अभियान क्लब बूथ संख्या 293 में भाजपा की एजेंट डॉली ब्रह्मा उस वक्त फफक कर रो पड़ी, जब उसको टीएमसी के लोगों ने रात को देख लेने की धमकी दी। डॉली का गुनाह सिर्फ इतना था कि वह मृत लोगों के नाम पर पड़ रहे वोट का विरोध कर रही थी। डॉली का कहना है कि एक नहीं कई ऐसे वोट डाले गए, जिनकी बहुत पहले मौत हो चुकी है। यानी फॉल्स वोट पडऩे पर उन्होंने सबसे पहले पीठासीन अधिकारी से इसकी शिकायत की। कोई सुनवाई नहीं होने पर मैसेज के माध्यम से जादवपुर लोकसभा से भाजपा के उम्मीदवार अनुपम हाजरा को इसकी जानकारी दी गई। इसके बाद तृणमूलकांग्रेस के लोग आग-बबुला हो गए। वे अपना आपा खोते हुए डॉली को मतदान समाप्त होने के बाद रात को देख लेने की धमकी दे डाली। इससे वह काफी भयभीत हो गई। बाद में उसने मीडिया को रोते हुए बताया कि इस बूथ पर छप्पा वोट तृणमूल के समर्थन में पड़ रहा है। छप्पा यानी फॉल्स वोट। यही नहीं तृणमूल के लोग एक साथ दो-दो वोट डाल रहे थे। केंद्रीय बलों से भी इसकी शिकायत करने पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। डॉल का कहना है कि तृणमूल वालों ने उसके घर में तोड़-फोड़ करने की भी धमकी दी। उधर तृणमूल ने डॉली के इस आरोप को निराधार बताया है। तृणमूल का कहना है कि भाजपा की यह रणनीति है कि झूठ बोलकर तृणमूल को बदनाम कराया जाए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned