scriptjute industry destroyed due to wrong policy of the Center, bjp mp | केंद्र की गलत नीति के कारण नष्ट हो रहा बंगाल का जूट उद्योग : भाजपा सांसद अर्जुन सिंह | Patrika News

केंद्र की गलत नीति के कारण नष्ट हो रहा बंगाल का जूट उद्योग : भाजपा सांसद अर्जुन सिंह

इस उद्योग को बचाने के लिए ममता बनर्जी के साथ आंदोलन करने को तैयार
-भाजपा संसद की टिप्पणी ने बढ़ाई भाजपा की बेचैनी

कोलकाता

Updated: April 25, 2022 06:55:00 pm

krishna das parth

kolkata. प्रदेश भाजपा के भीतर गुटबाजी इन दिनों चरम पर है। इस बीच सांसद अर्जुन सिंह (MP Arjun Singh) की टिप्पणी ने स्वाभाविक रूप से भाजपा की बेचैनी और बढ़ा दी है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल पर सीधे हमला करते हुए कहा कि उनकी वजह से बंगाल का जूट उद्योग नष्ट हो रहा है। इस उद्योग को बचाने के लिए जरूरत पडऩे पर वे बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ मिलकर आंदोलन करने को तैयार हैं।
भाजपा के सांसद का कहना है कि उन्होंने बंगाल के जूट उद्योग को बचाने के लिए केंद्रीय मंत्री को कई बार पत्र दिया, लेकिन इससे कोई फायदा नहीं हुआ। उन्होंने लोकसभा में भी इस मुद्दे को उठाया, पर कोई लाभ नहीं हुआ। अब सडक़ पर उतर कर आंदोलन करने के अलावा अन्य कोई रास्ता नहीं बचा है।
केंद्र की गलत नीति के कारण नष्ट हो रहा बंगाल का जूट उद्योग : भाजपा सांसद अर्जुन सिंह
केंद्र की गलत नीति के कारण नष्ट हो रहा बंगाल का जूट उद्योग : भाजपा सांसद अर्जुन सिंह
जूट उद्योगों से जुड़े किसान और कर्मचारी कहां जाएंगे--Where will the farmers and workers associated with the jute industries go

अर्जुन सिंह का कहना है कि पत्र देने से केद्रीय मंत्री पर कोई असर नहीं हो रहा है। केंद्रीय मंत्री ने प्लास्टिक के बैग इस्तेमाल करने का सुझाव दिया है। इस स्थिति में पश्चिम बंगाल में बड़ी संख्या में जूट उद्योगों से जुड़े किसान और कर्मचारी कहां जाएंगे? बीजेपी नेता ने यह सवाल किया है।
केंद्र की गलत नीति के कारण बर्बाद हो रहा जूट उद्योग

सांसद अर्जुन सिंह का कहना है कि केंद्र सरकार की जूट उद्योग नीति के कारण बंगाल का जूट उद्योग बर्बाद हो रहा है। इस उद्योग को बचाने के लिए वे जरूरत पडऩे पर राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ आंदोलन करने को भी तैयार हैं।

जूट उद्योग में जन्मे और बड़े हुए
बैरकपुर के सांसद का कहना है कि उनका जन्म जूट उद्योग में हुआ है। वे जूट उद्योग में काम किए हैं। वे बीजेपी के सांसद होने के नाते केंद्र सरकार का एक हिस्सा भी हैं। जब जूट उद्योग ही नष्ट हो जाएगा, तो केंद्रीय मंत्री के पास कहने के लिए कुछ भी नहीं बचेगा। उनका कहना है कि वे पिछले फरवरी महीने से कह रहे हैं कि जूट उद्योग बर्बाद हो रहा है लेकिन केंद्रीय मंत्री कुछ भी नहीं सुन रहे हैं। केंद्र ने इस समस्या का समाधान नहीं किया तो वे सडक़ पर उतर कर केंद्र सरकार की इस नीति के खिलाफ आंदोलन करेंगे।
सभी ट्रेड यूनियनों को एक साथ मिलकर करना चाहिए आंदोलन

उन्होंने सभी ट्रेड यूनियनों से इस संबंध में एकजुट होने का भी आह्वान किया है। भाजपा सांसद का आरोप है कि मुख्यमंत्री उन्हें इस समस्या को लेकर नहीं बुलाती हैं। अगर मुख्यमंत्री उन्हें बुलाएंगी तो वे उनके पास जाएंगे। जरूरत पड़ा तो यह भी कहेंगे कि वे इस मुद्दे पर उनके साथ मिलकर आंदोलन करने के लिए वे तैयार हैं। इस मुद्दे पर हम सभी को मिलकर लडऩे की जरूरत है। नहीं तो बंगाल से जूट उद्योग खत्म हो जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

भारत में पेट्रोल अमेरिका, चीन, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी महंगामुस्लिम पक्षकार क्यों चाहते हैं 1991 एक्ट को लागू कराना, क्या कनेक्शन है काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और शिवलिंग...योगी की राह पर दक्षिण के बोम्मई, इस कानून को लागू करने वाला नौवां राज्य बना कर्नाटकSri Lanka Crisis: राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे की बची कुर्सी, अविश्वास प्रस्ताव हुआ खारिज900 छक्के, IPL 2022 में रचा गया इतिहास, बल्लेबाजों ने 15वें सीजन में बनाया ऐतिहासिक रिकॉर्डIPL 2022 : 65वें मैच के बाद हुआ बड़ा उलटफेर ऑरेंज कैप पर बटलर नंबर- 1 पर कायम, पर्पल कैप में उमरान मलिक ने लगाई छलांगज्ञानवापी मामले में काशी से दिल्ली तक सुनवाई: शिवलिंग की जगह सुरक्षित की जाए, नमाज में कोई बाधा न होभाजपा के पूर्व सांसद व अजजा आयोग के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के इस पोस्ट से मचा बवाल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.